यूपी को जल्द मिलेगा एक और इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सौगात, इन जिलों के लोगों को होगा लाभ

 

नई दिल्ली: कुंभ 2025 की तैयारियां शुरू कर दी गई है और कुंभ 2025 में यात्री सीधे प्रयागराज एयरपोर्ट पर उतरे इसके लिए भी तैयारियां शुरू कर दी गई है। आपको बता दें कि बहुत ही जल्द पर आगरा फोर्ट से इंटरनेशनल फ्लाइट शुरुआत कर दी जाएगी और इसके लिए तैयारियां भी जोरों शोरों से की जा रही है। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि इस दिशा में प्रयास शुरू कर दिया गया है। उनके मुताबिक कुंभ से पहले एयरपोर्ट का स्तर और बढ़ जाएगा।

वर्ष 2019 में लगे कुंभ के पूर्व ही प्रयागराज में नए एयरपोर्ट का निर्माण हुआ। तब से अब तक प्रयागराज का सीधा हवाई संपर्क देश के 12 प्रमुख शहरों से हो चुका है। काफी लंबे समय से इसे इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने की मांग की जा रही थी और अब इस मांग को पूरा करने का सरकार ने विचार किया है। सूबे के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि प्रयागराज देश का महत्वपूर्ण शहर है। इसलिए प्रयास किया जा रहा है कि यहां एयरपोर्ट पर सुविधाओं का इजाफा हो और प्रयागराज की इंटरनेशनल हवाई कनेक्टिविटी भी हो।

चार वर्ष से कम समय में ही देश भर के सभी ऐसे एयरपोर्ट जो घरेलू फ्लाइट का संचालन करते हैं, उसमें ग्राहक संतुष्टि के मामले में प्रयागराज एयरपोर्ट की रैकिंग 13 वें स्थान एवं प्रदेश में पहले स्थान पर है। एयरपोर्ट और कीर्तिमान स्थापित करे, इस दिशा में प्रयास किए जा रहे हैं।

Up में लखनऊ और वाराणसी के बाद प्रयागराज ही प्रदेश का एकमात्र एयरपोर्ट है, जहां अब तक 15 लाख से ज्यादा यात्रियों की आवाजाही हो चुकी है। बीते माह ही प्रयागराज एयरपोर्ट के खाते में यह उपलब्धि दर्ज हुई। वर्तमान समय यहां से दिल्ली की दो एवं बिलासपुर, रायपुर, इंदौर, भोपाल, भुवनेश्वर, मुंबई, पुणे, बंगलूरू, लखनऊ, गोरखपुर एवं देहरादून की एक-एक फ्लाइट संचालित है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper