यूपी : दुकानों पर नहीं मिल रहे मास्क और सैनेटाइजर, जानिये क्या है कारण

लखनऊ : खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफएसडीए) की ओर से मास्क और सैनेटाइजर की कीमतें तय करते दवा की दुकानों से मास्क और सैनेटाइजर गायब हो गए। एफएसडीए की टीम ने चौक के कई मेडिकल स्टोर में छापेमारी भी की।

एफएसडीए की टीम में शामिल ड्रग इंस्पेक्टर ब्रजेश कुमार यादव, माधुरी सिंह व पुलिस ने चौक के लगभग 25 मेडिकल स्टोर पर छापेमारी की, लेकिन कहीं भी मास्क और सैनेटाइजर नहीं मिला। टीम ने आश्चर्य जाहिर करते हुए कहा कि केजीएमयू के पास स्थित मेडिकल स्टोर पर मास्क व सैनेटाइजर न मिलना गंभीर मामला है। ड्रग इंस्पेक्टर ब्रजेश ने बताया कि राजधानी में पर्याप्त मास्क और सैनेटाइजर उपलब्ध है। कीमतें तय होने से कालाबाजारी पर लगाम कसी है।

हैरानी की बात है कि केजीएमयू के आसपास मेडिकल स्टोर पर मास्क और सैनेटाइजर की बिक्री क्यों नहीं हो रही है। फिलहाल सभी को आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत मास्क और सैनेटाइजर की बिक्री के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही रेट लिस्ट भी प्रदर्शित करने को कहा गया है।

तय की गयी कीमतों के अनुसार 200 एमएल सैनेटाइजर 100 रुपए में, 100 एमएल सैनेटाइजर 50 रुपए में, 50 एमएल सैनेटाइजर 25 रुपए में ही बेचा जा सकता है। इसके अलावा थ्री लेयर मास्क 10 रुपये, टू लेयर मास्क 8 रुपए में मिलेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper