यूपी पंचायत चुनाव रिजल्ट: मतगणना पास को भटकते रहे प्रत्याशी

कन्नौज: यूपी पंचायत चुनाव में अब तक तीन चरण के मतदान हाे चुके हैं। चौथे चरण की वोटिंग 29 अप्रैल को होनी है। इसके बाद दो मई को वोटों की गिनती होगी। इसके लिए प्रत्याशियों के पास बनवाने का कार्य खंड विकास कार्यालय में शुरू किया गया है। आरओ समेत कई एआरओ इस काम का जिम्मा संभाल रहे हैं। पास बनवाने आए प्रत्याशियों के फार्म जमा कर उनके पास बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी। वहीं कन्नौज जिले में कई एआरओ ऐसे थे, जो किन्हीं कारणवश नहीं पहुंचे, जिससे उन एआरओ से संबंधि प्रत्याशी पास बनवाने के लिए भटकते रहे।

छिबरामऊ में संक्रमण काल के इस दौर में जहां मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है। वहीं पंचायत चुनाव में प्रधान पद की प्रत्याशी रहीं दो महिलाओं की भी अचानक मौत हो गई। ग्राम पंचायत रामपुर से प्रधान पद का चुनाव लड़ रही रेनू दुबे का निधन हो गया। वहीं बरूआ सबलपुर से प्रधान रह चुकीं और वर्तमान में चुनाव लड़ रही रेखा यादव का भी निधन हो गया। दो दिन पहले रामपुर बैजू से क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी रहे संजीव वर्मा का भी निधन हो गया था।

मतगणना में शामिल होने के लिए उम्मीदवारों व अभिकर्ताओं के लिए आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट ही मान्य होगा। एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट नहीं माना जाएगा। आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही उम्मीदवार व समर्थक अंदर प्रवेश कर पाएंगे। इस संबंध में सीडीओ गौरव सिंह सोगरवाल ने आदेश जारी कर 72 घंटे के अंदर वाली निगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ मतगणना स्थल पर आने को कहा है।

मतगणना संबंधित ब्लाक मुख्यालयों के निर्धारित स्थलों पर दो मई को सुबह आठ बजे से होगी। इसमें प्रधान, बीडीसी, ग्राम पंचायत सदस्य, जिला पंचायत सदस्य पद की गणना एक साथ होगी। इसके लिए ब्लाक मुख्यालय से एआरओ द्वारा मतगणना पास बनाने का कार्य शुरू कर दिया गया है। मतगणना स्थल पर कोरोना संक्रमण न फैलने पाए इसके लिए सभी उम्मीदवारों व गणना अभिकर्ताओं को अपना अपना कोविड टेस्ट कराना होगा। सीडीओ गौरव सिंह सोगरवाल ने आदेश जारी किया है कि उम्मीदवार अपना व निर्वाचक मतगणना अभिकर्ता का गणना तिथि से पहले कोविड 19 की जांच करा लें।

सभी प्रत्याशी, मतगणना अभिकर्ता मतगणना स्थल पर अपनी 72 घंटे पहले की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट के साथ ही आएंगे। इसमें केवल आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट ही मान्य होगा। बिना आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट के किसी को अंदर नहीं जाने दिया जाएगा। इसके साथ ही उम्मीदवारों व गणना अभिकर्ताओं मास्क व सोशल डिस्टेंस का पालन करना होगा। सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी धनंजय दूबे ने बताया कि मतगणना में शामिल होने के लिए आरटी-पीसीआर जांच जरूरी है। एंटीजन टेस्ट को नहीं माना जाएगा। कर्मचारियों के लिए एंटीजन टेस्ट की भी व्यवस्था होगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper