यूपी में पथराव के आरोप में अब तक 345 लोग गिरफ्तार

लखनऊ । पूर्व भाजपा नेताओं नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल पर पैगंबर मौहम्मद पर अपमानजनक टिप्पणी के खिलाफ 10 जून को उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन और पथराव के मामले में अब तक कम से कम 345 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, प्रयागराज में हिंसक विरोध प्रदर्शन में उनकी कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार किए गए 92 लोगों के घरों की कथित तौर पर प्रशासन द्वारा पहचान कर ली गई है और उनकी संपत्तियों की वैधता की स्थिति की जांच की जा रही है।

इस बीच, प्रयागराज में मुख्य आरोपी जावेद मोहम्मद के घर को तोड़े जाने के बाद, अटाला सहित शहर के अन्य इलाकों के दुकानदारों और निवासियों ने अधिकारियों की कार्रवाई के डर से अपने कब्जे वाले भवनों को खाली कर दिया है। अटाला इलाके में 10 जून को बड़े पैमाने पर विरोध और पथराव हुआ था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने कहा कि सहारनपुर में 12 हिंदुओं और छह मुसलमानों सहित 18 लोगों को कथित तौर पर सोशल मीडिया पर अभद्र भाषा पोस्ट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

फिरोजाबाद और अंबेडकर नगर में पुलिस पर पथराव करने और प्रतिबंधों की अवहेलना करने में शामिल लोगों के लिए लुकआउट पोस्टर लगाए हैं। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, कानून एवं व्यवस्था, प्रशांत कुमार ने कहा, “हमने फिरोजाबाद में 16, अंबेडकर नगर में 41, मुरादाबाद में 35, सहारनपुर में 100, प्रयागराज में 92, हाथरस में 51, अलीगढ़ में छह और जालौन में चार गिरफ्तार किए हैं, जिससे गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या 345 हो गई है।”

अंबेडकर नगर पुलिस ने टांडा में पथराव और नारेबाजी करने वाले 60 लोगों की तस्वीरें प्रसारित की हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper