यूपी में सैन्य अधिकारी की बेटी का अपहरण कर बदमाशों ने की छेड़छाड़, चलती कार से फेंका

लखनऊ. रायबरेली रोड से वैन सावर बदमाशों ने एक सैन्य अधिकारी की बेटी का अपहरण कर लिया। उसके साथ छेड़छाड़ की कपड़े फाड़ दिए। उसका क्रेडिट कार्ड और रुपये भी लूट लिए। विरोध पर जमकर पीटा और फिर चलती कार से फन माल के पास फेंककर भाग निकले। पुलिस ने छात्रा की मां की तहरीर पर गोमतीनगर पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

इंस्पेक्टर गोमतीनगर दिनेश चंद्र मिश्रा के मुताबिक रायबरेली रोड पर रहने वाली युवती की सैन्य अधिकारी मां ने बताया कि बीते आठ नवंबर की दोपहर बेटी लस्सी लेने के लिए क्षेत्र स्थित एक दुकान पर गई थी। वह लस्सी लेकर लौट रही थी। इस बीच बिग मार्ट के सामने एक मारुती वैन रुकी। उसमें बैठे तीन बदमाशों ने गेट खोला और अंदर खींच लिया और चले गए।

घर से निकलने के बाद भी करीब घंटे भर तक जब बेटी नहीं लौटी तो उसे फोन किया। मोबाइल स्विच आफ था। बेटी को तलाशने निकली कुछ पता न चला। पीजीआइ थाने पहुंची। थाने में बैठी ही थी कि इस बीच फन माल चौकी से बेटी का फोन देर शाम आया। पता चला कि कुछ लोग बेटी का अपहरण कर ले गए थे। आनन फानन पहुंची बेटी से मिली। बेटी के कपड़े फटे थे उसने घटना की जानकारी दी।

बेटी ने बताया कि अपहर्ताओं ने वैन में डालकर उससे छेड़छाड़ की। विरोध पर उसके बाल पकड़कर खींचे और जमकर पीटा। इसके साथ ही उसका क्रेडिट कार्ड और रुपये छीन लिए। इसके बाद फन माल के पास फेंककर भाग निकले। इंस्पेक्टर ने बताया कि युवती की मां की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। घटनास्थल के आस पास और मुख्य मार्ग पर लगे सीसी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। युवती बदमाशों की कार का नंबर नहीं बता पा रही है। जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार किया जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper