यूपी में 38 करोड़ से ज्यादा कोविड वैक्सीन लगाई गई

लखनऊ । उत्तर प्रदेश ने कोविड-19 वैक्सीन खुराक देने का 38 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है और यह आंकड़ा हासिल करने वाला भारत का पहला राज्य बन गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश ने अब तक कोविड-19 वैक्सीन की कुल 38 करोड़ से अधिक खुराक दी है। कोविड-19 पर भारत की जीत सुनिश्चित करने वाली सफलता प्रतिबद्ध स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और अनुशासित नागरिकों के लिए समर्पित है।”

राज्य सरकार के एक प्रेस बयान में कहा गया है, कोविन पोर्टल के आंकड़ों के अनुसार, देश में प्रशासित कुल 215 करोड़ खुराक में से कम से कम 38.01 करोड़ उत्तर प्रदेश से हैं।

कोविड-19 महामारी के खिलाफ अपनी लड़ाई को मजबूत करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार समयबद्ध तरीके से 12 से 18 वर्ष की आयु के सभी बच्चों को टीकाकरण कवर प्रदान कर रही है।

प्रदेश में अब तक 15-18 आयु वर्ग के बच्चों को 2,73,20,364 से अधिक वैक्सीन की खुराक और 12-15 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों को 1,63,59,874 से अधिक वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है।

उत्तर प्रदेश ने 10 जनवरी को बूस्टर शॉट्स देना शुरू किया। राज्य में अब तक 3.52 करोड़ से अधिक बूस्टर शॉट्स दी जा चुकी हैं।

उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र का स्थान है, जहां अब तक 17.65 करोड़ खुराकें दी जा चुकी हैं।

प्रेस बयान में कहा गया है कि प्रतिशत के संदर्भ में राज्य में अब 100 प्रतिशत वयस्क आबादी का पूरी तरह से टीकाकरण हो चुका है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper