ये सात गाने प्रभुदेवा को बनाते हैं डांस का ‘देव’, एक सॉन्ग की कोरियोग्राफी के लिए मिला था नेशनल अवार्ड !

मुंबई: बॉलीवुड और टॉलीवुड एक्टर, फिल्ममेकर, डांसर और कोरियाग्राफर प्रभु देवा आज अपना 48वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं. हम सभी उनके हर किरदार को पसंद करते हैं और उन्हें उनके बेहतरीन डांसिंग स्किल्स की वजह से ज्यादा जानते हैं. उन्हें भारत का माइकल जैक्सन भी कहा जाता है. प्रभु ने 15 साल की उम्र से लेकर अब तक 100 से ज्यादा गाना को कोरियोग्राफ किया है.

प्रभु देवा के जन्मदिन के मौके पर हम आपको उनके सात बेहतरीन डांसिंग स्किल्स के बारे में बताने जा रहे हैं.

इस क्रम में सबसे पहला सॉन्ग मुकाबला मुकाबला है. इस सॉन्ग में उन्होंने इतना शानदार डांस किया है कि आज इसे देखा जाता है. इस सॉन्ग के बेहतरीन मूव्स को दोबारा रिक्रिएट करना बहुती मुश्किल है.

बॉलीवुड इस गाने को फिर से रिक्रिएट जरूर करना चाहेगा. इस गाने के कोरियाग्राफी प्योर गोल्ड है. बस की छत पर से लेकर सड़क पर डांस करना हर किसी के बस की बात नहीं है. प्रभुदेवा के करियर का ये सबसे बड़ा सॉन्ग हैं.

प्रभुदेवा के करियर का दूसरा सबसे बड़ा गाना पट्टी रैप है. इस गाने गांव के बच्चों से लेकर बड़ों तक के साथ प्रबुदेवा ने डांस किया. इसमें उनके जंपिंग डांस को काफी पसंद किया गया.

इस गाने में प्रभुदेवा ने काजल के साथ मिलकर मैजिकल डांस परफॉर्मेंस दिया है. ये गाना फिल्म ‘सपने’ का है. इस गाने की कोरियाग्राफी के लिए प्रभुदेवा को साल 1998 में नेशनल अवार्ड मिला.

प्रभुदेवा ने इस गाने में माइकल जैक्सन जैसा बेहतरीन डांस किया. इस गाने में उन्होंने अपने डांस से स्टेज पर आग लगा दी थी.

इस गाने में दो बेहतरीन डांसर ने अपने डांस का कमाल दिखाया. इस गाने में प्रभुदेवा के साथ माधुरी दीक्षित ने डांस किया था. ये गाना आज भी खूब देखा जाता है.

जन्माष्टमी और गणेश चतुर्थी के मौके पर ये गाना खूब बजाया जाता है. इस गाने में प्रभुदेवा के साथ सोनाक्षी सिन्हा ने धांसू डांस किया था. इस गाने में प्रभुदेना ने अपने 90 के दशक वाले स्टाइल में डांस किया था.

Source:- ABP Live

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper