ये हैं भरतपुर की सबसे युवा और MBBS सरपंच

भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर जिले में गरहाजन गांव की कमां पंचायत में नई सरपंच चुनी गई है. पहली बार इस पंचायत को एमबीबीएस और इतनी युवा सरपंच मिली है. 24 वर्षीय शहनाज खान को सरपंच बनने के लिए पूरे गांव का आशीर्वाद मिलने के साथ ही ज्यादातर लोगों का सपोर्ट भी मिला. शहनाज जितनी अपनी काबिलियत के लिए जानी जाती हैं, उतनी ही वो अपनी खूबसूरती के लिए सुर्खियां बटोर रही हैं.

सरपंच चुनाव में जीत के बाद मीडिया से बात करते हुए शहनाज ने कहा- ‘मैं बहुत खुश हूं कि मुझे अपने लोगों की सेवा करने का मौका मिला है. मेरी प्राथमिकताएं लड़कियों की पढ़ाई और स्वच्छता होंगी.’ उन्होंने आगे कहा कि, ‘मैं लड़कियों के लिए एक उदाहरण पेश करना चाहती हूं कि किन-किन तरीकों से शिक्षा हमारी मदद करती है.’

पिछले साल अक्टूबर में गरहाजन गांव में होने वाले चुनाव रद्द कर दिए गए थे क्योंकि शहनाज के दादा पर चुनाव के दौरान झूठे शैक्षणिक योग्यता प्रमाणपत्र देने का आरोप लगा था. इस वजह से उन्होंने इस बार खुद चुनाव लड़ने का निर्णय लिया. राजस्थान में सरपंच का चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवार का कम से कम 10वीं पास होना आवश्यक होता है. खान का ताल्लुक राजनीतिक परिवार से है. उनके दादा पिछले 55 सालों से गांव के सरपंच रहे हैं जबकि उनके पिता गांव के मुखिया हैं. वहीं उनकी मां विधायक हैं.

शहनाज ने कहा कि लोग अभी भी अपनी बेटियों को स्कूल नहीं भेजते हैं और इसलिए मैं लड़कियों को शिक्षा देने के लिए काम करना चाहती हूं. यह उन सभी पैरैंट्स के लिए उदाहरण होगा जो अपनी बेटियों की पढ़ाई को नजरअंदाज कर देते हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper