ये हैं वह काम, जिसे लक्ष्मी जी को पसंद नहीं

नई दिल्ली: हिंदू मान्यता के अनुसार पुराणों में ऐसी बातें कही गई हैं, जो मनुष्य को अपने जीवन में पालन करना जरूरी है। यदि इन बातों का ध्यान नहीं रखा जाए तो देवी लक्ष्मी की कृपा नहीं होती। इन बातों का जरूर ध्यान रखें। गरुड़ पुराण में बताया गया है कि किन घरों पर देवी लक्ष्मी कृपा नहीं करती है, कौन से काम देवी लक्ष्मी को पसंद नहीं हैं। यहां जानिए ये काम कौन-कौन से हैं…

यदि आप चाहते हैं कि आपके घर में किसी तरह कोई कलह न हों और घर में सुख व समृद्धि बनी रहे तो सबसे पहले अपने घर से कूड़ा कचरा निकाल फेंके, यह भी ध्यान रहे कि लक्ष्मी जी को गंदगी बिलकुल भी पसंद नहीं है. इसलिए जंग लगी कीलें, बिना ताले की चाभियां, खराब लकड़ी आदि चीजें जो आपके काम की नहीं हैं, उन्हें तुरंत बाहर कर दें। अन्यथा वातावरण नकारात्मक रहेगा और देवी-देवताओं की कृपा नहीं मिल पाएगी।

नियमित रूप से घर के कोन-कोने की अच्छी तरह सफाई होनी चाहिए। सफाई के बिना घर में नकारात्मकता पैर पसार लेती है, जिससे वहां रहने वाले लोगों को मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता है। सफाई के साथ ही घर का वातावरण सुंगधित भी रखें। इसके लिए सुगंधित अगरबत्तियां जलाएं।

पति-पत्नी के रिश्तों में और घर में सबकुछ सही रहे इसके लिए जरूरी बात ये है कि पलंग एकदम साफ रहना चाहिए। बिस्तर कटे-फटे न हो और पलंग भी टूटा नहीं होना चाहिए। पलंग की ये बातें पति-पत्नी के रिश्तों को प्रभावित करती है। पत्नी-पत्नी के बीच तालमेल में कमी आती है और वाद-विवाद बढ़ सकते हैं।

शास्त्रों में बताया गया है कि अगर कोई व्यक्ति धन कमाता है, लेकिन कंजूसी के कारण दान नहीं करता है तो वह कभी भी सुखी नहीं रह पाता है। सभी प्रकार की परेशानियों से मुक्ति पाने के लिए सबसे अच्छा उपाय है दान-पुण्य करना। गरीबों को दान करते रहें। गाय को हरी घास और कुत्तों को रोटी खिलाएं। सबसे पहली रोटी में से कुत्ते, कौए और गाय को थोड़ी-थोड़ी जरूर खिलाएं।

रात में इस बात का विशेष ध्यान रखें कि घर में जूठे बर्तन नहीं रखना चाहिए। सोने से पहले बर्तन साफ कर लेना चाहिए। साथ ही, रात में गंदे कपड़े भिगोकर नहीं सोना चाहिए। इस बात का ध्यान रखने पर परिवार की एकता बनी रहती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper