योगी जी! आखिर कब रुकेंगी महिलाओं के साथ हैवानियत की घटनाएं?

गोंडा: उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ योगी सरकार में भी महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के गोंडा जनपद से है जहां के देहात कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रविवार की रात एक किशोरी को अगवाकर दुष्कर्म किया गया। इलाज के लिए अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई। घटना के बाद से आरोपी फरार है। पीड़िता के पिता की तहरीर पर पुलिस ने गांव के ही कृपाल सिंह के खिलाफ अपहरण कर दुष्कर्म करने सहित अन्य धाराओं का मुकदमा दर्ज किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रविवार रात करीब साढ़े आठ बजे 16 वर्षीय किशोरी दैनिक क्रिया से निवृत्त होने के लिए घर से बाहर निकली थी। देर तक वापस न आने पर उसकी खोज शुरू की गई लेकिन रात दो बजे तक वह नहीं मिली। सोमवार की सुबह करीब साढ़े पांच बजे वह घर पहुंची तो घटना की जानकारी दी। बकौल पीड़िता जब वह शौच के लिए निकली थी तभी गांव का ही कृपाल सिंह उसका मुंह दबाकर उठा ले गया। गांव से कुछ दूर ले जाकर जबरिया नशीला पदार्थ खिलाया और दुष्कर्म किया।

इसे भी पढ़िए: मैच के दौरान इसलिए किताब पढ़ती है मिताली

सुबह किसी तरह दरिंदे के चंगुल से छूटने के बाद किशोरी ने आरोपी के चाचा फूले को फोन करके बुलाया। वह उसे लेकर उसके घर पहुंचा तो परिवारीजन ने घटना की जानकारी पुलिस कंट्रोलरूम को दी। इसके बाद पुलिस जांच के लिए पीड़िता व उसके पिता को जिला मुख्यालय ले आई।

घटना के बाद पुलिस पीड़िता को त्वरित चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने के बजाय उसे कागजी कार्रवाई का कोरम पूरा करने के लिए इधर-उधर घुमाती रही। पीड़ित पिता का आरोप है कि करीब 12 बजे तक उसकी बेटी का इलाज नहीं हो सका जबकि उसके पेट में दर्द बना हुआ था। महिला अस्पताल से जिला अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper