योगी ने 69000 शिक्षक भर्ती के 31,661 पदों पर जल्द नियुक्ति के आदेश दिए

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में सरकारी भर्तियों को लेकर योगी सरकार एक्शन मोड में आ गई है. सीएम ने निर्देश जारी किए हैं कि युवाओं को जल्द से जल्द रोजगार मुहैया कराए जाएं. इसी को लेकर यूपी में बेसिक शिक्षा विभाग के रिक्त 31661 पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू होने जा रही है. सीएम ने आदेश दिया है कि एक सप्ताह के अंदर इस भर्ती प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाए. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं के रोजगार को लेकर पर्याप्त अवसर उपलब्ध कराने के लिए संकल्पित है. इसको लेकर लगातार प्रयास किए जा रहे हैं.

दरअसल यूपी सरकार ने 69000 सहायक शिक्षकों के पदों पर भर्तियां निकालीं थीं. लेकिन शिक्षामित्रों की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने 69,000 सीटों में 37,339 पदों की भर्ती पर सरकार को रोक लगाने के आदेश दिए थे. बाकी बचे हुए 31,661 पदों पर भर्ती करने पर कोई रोक नहीं थी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बेसिक शिक्षा परिषद को आदेश दिया है कि सुप्रीम कोर्ट के 21 मई 2020 को दिए फैसले के अनुसार ही 31,661 शिक्षकों की नियुक्तियां एक हफ्ते के भीतर संपन्न की जाएं.

आपको बता दें कि ​सपा, बसपा और कांग्रेस नौकरियों को लंबित रखने और बेरोजगारी के मुद्दे पर योगी सरकार को लगातार घेर रही है. विपक्ष इन मुद्दों को चुनावी लिहाज से भुनाने की कोशिश में है. इसको ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अब खुद सरकारी भर्तियों को लेकर सक्रिय हो गए हैं. जल्द ही वह विभिन्न विभागों और भर्ती बोर्डों के साथ बैठक करने वाले हैं. इससे पहले वह राज्य के सभी सरकारी विभागों में खाली पड़े पदों पर तीन महीने के अंदर भर्ती प्रक्रिया संपन्न कराने और छह महीने के अंदर नियुक्ति पत्र वितरित करने के आदेश दे चुके हैं.

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper