योगी राज में गिरा क्राइम का ग्राफ, हत्या के मामलों में 7.35 प्रतिशत की आयी कमी

लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो। वनवास खत्म करके चौदह वर्ष बाद भारी बहुमत से उत्तर प्रदेश की सत्ता पर काबिज हुई भाजपा सरकार का सोमवार को एक वर्ष पूरा हो गया। सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने बिगड़ी कानून व्यवस्था को पटरी पर लाने के कई ठोस निर्णय लिए। महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए एंटी रोमियो, एंटी भू-माफिया सेल और अपराध को प्रदेश से खत्म करने के लिए एनकाउंटर अभियान चलाया। एक वर्ष में सरकार की उपलब्धियों को अगर देखा जाए तो बिगड़ी कानून-व्यवस्था में सुधार हुआ है। इतना ही नहीं बड़े से बड़े अपराधी पुलिस के सामने सरेंडर भी हुए हैं तथा कइयों ने अपनी जमानत रद्द करा ली है।

प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि प्रदेश को अपराध मुक्त करना उनका दृढ़ संकल्प है। अब अपराधी यह सुनिश्चित कर लें कि अगर उन्हें प्रदेश में रहना है तो अपराध छोड़ दें या प्रदेश से बाहर चले जाएं। महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए एंटी रोमियो दल का गठन किया गया। इसके बाद पुलिस ने एनकाउंटर सहित कई ठोस कदम उठाए। कानून व्यवस्था को लेकर लोगों का नजरिया बदला है लेकिन कई घटनाओं ने पुलिस महकमे की कार्यशैली पर सवाल भी खड़ेे किए हैं।

पुलिस का एनकाउंटर अभियान

प्रदेश को अपराध मुक्त करने के लिए पुलिस ने एनकाउंटर अभियान चलाया। इसके तहत योगी सरकार के एक वर्ष में पुलिस और अपराधियों के बीच करीब 1,418 मुठभेड़ हुई। इसमें पुलिस ने 45 इनामी बदमाशों को मार गिराया। 3,316 अपराधी गिरफ्तार एवं 366 अपराधी घायल हुए। फुट पेट्रोलिंग में 1,59,927 संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया तथा 88,093 अभियोग पंजीकृत कर 95,964 अभियुक्त गिरफ्तार किए गए।

प्रदेश में गत वर्षों की तुलना में डकैती के मामलों में 5.70 प्रतिशत, हत्या में 7.35 प्रतिशत, रोड होल्डअप में 100 प्रतिशत, फिरौती में 13.21 प्रतिशत, अनुसूचित जाति-जनजाति के व्यक्तियों के साथ घटित होने वाली हत्या में 16.41 प्रतिशत, आगजनी में 29.73 प्रतिशत की कमी आयी है।
गत वर्ष की तुलना में गुंडा एक्ट से 0.19 प्रतिशत, गैंगेस्टर एक्ट में 2.15 प्रतिशत, एनएसए में 05 प्रतिशत, जुआ अधिनियम में 13.17 प्रतिशत एवं एनडीपीएस अधिनियम में 12.88 प्रतिशत की अधिक कार्रवाई की गयी है।

पुलिस का खौफ, जमानत करायी रद्द

पुलिस का इतना खौफ रहा कि एक वर्ष में करीब 5409 बदमाश जमानत के बाद भी जेल से बाहर नहीं आना चाहते हैं। 127 इनामी बदमाश संबंधित थानों में हाजिरी लगा रहे हैं कि मैं अपराध नहीं करूंगा, जबकि कई बदमाशों ने अपराध न करने की कसम खाते हुए चाय की दुकान और मजदूरी करना शुरू कर दिया है।

एन्टी रोमियो स्क्वायड की कार्रवाई

सार्वजनिक स्थल पर छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने में एंटी रोमियो दल ने 26,36,070 व्यक्तियों की चेंकिग की। 1987 अभियोग पंजीकृत तथा 3.418 व्यक्तियों के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई एवं 11,94,921 व्यक्तियों को चेतावनी दी गई। वूमेन पॉवर लाइन 1090 के माध्यम से 1,77,522 शिकायतों का समाधान किया गया।

7.45 करोड़ रुपये की अवैध सम्पति जब्त

भू-माफिया अपनी दबंगई के चलते लोगों की जमीन व मकान हड़प कर लेते थे। इस मामले को प्रदेश की योगी सरकार ने संज्ञान में लिया और एंटी भू-माफिया सेल का गठन कर दिया। इसके तहत की गई भू-माफिया के विरुद्ध कार्रवाई में 2,596 अभियोग पंजीकृत तथा 1,922 अभियक्तों की गिरफ्तारी की गई। साथ ही 460 हाजिर अदालत, 6 कुर्की तथा 7.45 करोड़ रुपये की अवैध सम्पति जब्त की गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper