योगी सरकार का बड़ा फैसला, DGP मुकुल गोयल को हटाया, प्रशासनिक कार्यों में रुचि न लेने पर हुई कार्रवाई

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए यूपी पुलिस के महानिदेशक (DGP) मुकुल गोयल को हटा दिया है. आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल को शासकीय कार्यों की अवहेलना करने, विभागीय कार्यों में रुचि न लेने एवं अकर्मण्यता के चलते डीजीपी के पद से हटा दिया गया है. मुकुल गोयल को नागरिक सुरक्षा विभाग का महानिदेशक बनाया गया है.

यूपी के नए डीजीपी की नियुक्ति तक एडीजी एलओ (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार कार्यवाहक डीजीपी होंगे. सूत्रों के मुताबिक, नए डीजीपी को लेकर तीन नामों की चर्चा चल रही है. DG इंटेलिजेंस डीएस चौहान और आरके विश्वकर्मा के साथ आनंद कुमार भी रेस में हैं. 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी मुकुल गोयल को पिछले साल जून में यूपी का डीजीपी नियुक्त किया गया था. मुकुल गोयल आजमगढ़ के एसपी और वाराणसी, गोरखपुर, सहरानपुर, मेरठ जिलों के एसएसपी रह चुके हैं.

मुकुल गोयल कानपुर, आगरा, बरेली रेंज के डीआईजी और बरेली जोन के आईजी भी रह चुके हैं. इसके अलावा मुकुल गोयल केंद्र में आईटीबीपी, बीएसएफ, एनडीआरएफ में भी काम कर चुके हैं. उन्होंने आईआईटी की पढ़ाई खड़गपुर से की है. मुकुल गोयल मूल रूप से उत्तर प्रदेश के शामली जिले के रहने वाले हैं. यूपी के डीजीपी बनने से पहले बीएसएफ के एडीशनल डीजी आपरेशंस के पद पर कार्यरत थे.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper