रथयात्रा रुकने पर अमित शाह का ममता बनर्जी पर हमला, बोले- जोर लगा लीजिए, रथयात्रा तो निकालकर रहेंगे

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी की रथ यात्रा पर रोक लगाये जाने से आहत पार्टी अध्यक्ष अमित शाह कल कोलकाता में कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। शाह ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पार्टी की रथ यात्रा पर रोक की लडाई अदालत में लड़ी जाएगी लेकिन वह कल पार्टी के कोलकाता में होने वाले कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लेंगे ।

उन्होंने जोर देकर कहा कि भाजपा की रथ यात्रा को स्थगित किया गया है और उचित समय पर राज्य में तीनों स्थानों से उसकी शुरुआत की जाएगी। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह बीजेपी से डर गई हैं। अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी को जितना जोर लगाना हैं लगा लें, हम रथ यात्रा तो निकालकर रहेंगे और इसके लिए ईंट से ईंट बजा देंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि बंगाल में माफियाओं का राज हो गया है।

उन्होंने बताया कि रथ यात्रा 7 दिसंबर, 9 दिसंबर और 14 दिसंबर से शुरू होना था। हमने प्रशासन से परमिशन मांगी थी। 2 और 12 और 20 नवंबर को रिमाइंडर भेजे गए। फिर 14, 20 और 23 नवंबर को पुलिस को रिमाइंडर भेजे गए लेकिन हमें परमिशन नहीं दी गई।

उल्लेखनीय है कि भाजपा लोकसभा चुनाव की तैयारी और संगठन के विस्तार को लेकर आज से रथ यात्रा शुरु करने वाली थी लेकिन न्यायालय ने कानून व्यवस्था के मद्देनजर इस राेक लगा दी है ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper