राजधानी में लोगों की गाढ़ी कमाई लूट रहे हैं साइबर जालसाज, रहें सावधान

लखनऊ: राजधानी में साइबर जालसाज लोगों की गाढ़ी कमाई लूट रहे हैं। जालसाजों ने शोध छात्र समेत तीन के खाते से तीन के खाते से 1.20 लाख रुपये पार कर दिये। साइबर ठगी के मामले पीजीआई व गाजीपुर में हुए। कहीं जालसाजों ने क्लोन बनाया तो कहीं लिंक भेजकर फंसाया। पुलिस तीनों मामलों की पड़ताल कर रही है।मूल रूप से प्रतापगढ़ जगदीशपुर निवासी शिवमूरत यादव एसजीपीजीआई एमएस इंडोनोलॉजी विभाग में शोध छात्र है। बीते शनिवार की देर रात साइबर जालसजों ने कार्ड का क्लोन बनाकर खाते से 10 हजार रुपये पार कर दिये।

मैसेज देख शिवमूरत के होश उड़ गये। उसने बैंक के कस्टमर केयर पर कॉल कर कार्ड ब्लॉक कराया। पीड़ित ने रविवार को पीजीआई थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी। इसी थाना क्षेत्र के पीजीआई के सरकारी आवास में रहने वाली पुष्पा शर्मा ने बताया कि उन्होंने ऑनलाइन शापिंग साइट से बीते शुक्रवार को एक कुर्ती बुक करायी थी। डिलेवरी होने पर उन्होंने कुर्ती के 890 रुपये का भुगतान कर दिया। पुष्पा ने बताया कि उन्होंने कुर्ती चेक की तो उसमें डिफेक्ट मिला। उन्होंने साइट पर पोस्ट नम्बर पर कॉल की तो फोन के पीछे मौजूद शख्स ने उन्हें दूसरा नम्बर देने के साथ ही एक लिंक भेजा।

उसके बाद उनके खाते से चार बार में 70,597 रुपये गायब हो गये। पुष्पा ने बैंक में शिकायत करने के बाद ही उन्होंने रविवार को पीजीआई थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी। वहीं, गाजीपुर के एचएएल निवासी रमेश चन्द्र की बेटी का बचत खाता स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया में है। बीते शुक्रवार रात जालसाजों ने खाते से दो बार में 40 हजार रुपये उड़ा लिए। रमेश चन्द्र ने गाजीपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper