राजपूत के निधन के बाद नेपोटिज्म की बहस की बहस तेज, अब इस एक्ट्रेस ने मनोज तिवारी को लेकर कही यह बात

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद नेपोटिज्म की बहस काफी तेज हो गई है। बॉलीवुड में शुरू हुई यह बहस अब भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री तक पहुंच गई है। हाल ही में जहां अक्षरा सिंह ने भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म और ग्रुपिज्म के बड़े स्तर पर फैले होने की बात कही थी वहीं अब भोजपुरी सिनेमा की क्वीन रानी चटर्जी भी इस बहस के बीच अपने अनुभव साझा किए हैं।

साल 2004 में मनोज तिवारी के साथ भोजपुरी फिल्म ससुरा बड़ा पईसावाला से करियर की शुरुआत करने वाली एक्ट्रेस रानी चटर्जी ने कहा कि इस फिल्म के हिट होने के बाद मनोज तिवारी के पास फिल्मों की लाइन लग गई लेकिन उन्हें कोई कास्ट नहीं करना चाहता था। हर कोई कहता था कि ये नई है और इसे एक्टिंग नहीं आती। लोग ये भी कहते कि ये तो हीरोइन की तरह दिखती भी नहीं है।

रानी चटर्जी ने आगे कहा कि ससुरा बड़ा पईसावाला ऐतिहासिक फिल्म होने के बावजूद मनोज तिवारी अपनी फिल्मों में सिर्फ हिंदी फिल्मों की एक्ट्रेसेज को कास्ट करना चाहते थे। उन्होंने कहा, क्या ये संभव है कि ऐतिहासिक फिल्म हो और उस एक्टर और एक्ट्रेस ने साथ में सिर्फ तीन फिल्में की हों। बात को आगे बढ़ाते हुए रानी कहती हैं कि मुझे फिल्मों में नहीं लिया जाता था। मैं भी मान लेती थी कि नई हूं। मुझमें काफी समस्या है।

अभी काफी कुछ सीखना है। फिल्मों में कास्ट नहीं करने को लेकर मैंने इसे चुनौती के तौर पर लिया। रानी ने कहा कि कई बार ऐसा भी हुआ कि फिल्म में मुझे लेने की बात कहते थे और शूटिंग किसी और हीरोइन के साथ शुरू कर देते थे।

रानी चटर्जी ने निरहुआ और रवि किशन को लेकर कहा कि निरहुआ के साथ भी आजतक मैं एक भी सोलो फिल्म नहीं कर सकी। मैंने उनकी फिल्मों में तभी नजर आई जब उनके साथ कोई और एक्ट्रेस रही। रवि किशन के साथ तो मेरी जोड़ी हिट रही। लेकिन उनके साथ भी तब काम करने का मौका मिला जब मैं अपनी पहचान बना ली थी।

गौरतलब है कि ससुरा बड़ा पईसावाला रानी चटर्जी और मनोज तिवारी की साथ में पहली भोजपुरी फिल्म थी। फिल्म की लागत सिर्फ 30 लाख थी लेकिन इसने बॉक्स ऑफिस पर 9 करोड़ से उपर का बिजनेस किया था। इसके बाद कई भोजपुरी सिंगर फिल्म बनाने में जुट गए। फिल्म को लाल सिन्हा ने निर्देशित किया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper