राजस्थान में जारी सियासी संग्राम के बीच वसुंधरा राजे ने तोड़ी चुप्पी, कहा- कांग्रेस की अंदरूनी कलह की कीमत चुका रहे लोग

जयपुर: राजस्थान में मचे सियासी घमासान पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने एक बयान में कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि राजस्थान की जनता को कांग्रेस की अंदरूनी कलह की कीमत चुकानी पड़ रही है। कांग्रेस पूरा दोष बीजेपी पर मढ़ने की कोशिश कर रही है।

राजे ने आज सोशल मीडिया के जरिए कहा कि ऐसे समय में जब किसानों के खेतों में टिड्डी हमला कर रही है,महिलाओं के खिलाफ अपराध ने सीमाए लांघ दी है। प्रदेश में बिजली समस्या चरम पर है। उन्होंने कहा कि वह यह तो कुछ ही समस्याएं बता रही है, जबकि कांग्रेस, भाजपा और उसके नेताओं पर दोष लगाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार के लिए सिर्फ जनता का हित सर्वोपरि होना चाहिए। कोई तो जनता के बारे में सोचिए।

गौरतलब है कि शुक्रवार को कांग्रेस के नेताओं ने टेप का हवाला देते हुए भाजपा पर विधायकों की खरीद फराेख्त करने का आरोप लगाते हुए कहा था कि भाजपा ने लोकतंत्र का चीरहरण, जनमत का अपहरण और सरकार को गिराने का षड्यंत्र किया है।

आपको बता दें कि राजस्थान में जारी सियासी संग्राम अब हाईकोर्ट में पहुंच गया है। सचिन पायलट और अन्य बागी विधायकों को कांग्रेस की ओर से अयोग्य ठहराए जाने संबंधी नोटिस पर चुनौती देने वाली याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में सोमवार को फिर से सुनवाई की जाएगी। नोटिसों पर प्रस्तावित कार्रवाई मंगलवार तक बढ़ा दी गई है। मामले में अगली सुनवाई सोमवार 10 बजे जारी रहेगी। सचिन पायलट और उनके सहयोगी बागी विधायक यह कहते हुए मामले को कोर्ट ले गए थे। वहीं विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोपों की जांच चल रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper