राजस्थान में 12 से 14 साल के सवा लाख से ज्यादा बच्चों को लगा वैक्सीनरूपी सुरक्षा कवच

जयपुर। प्रदेश में अब तक 12 से 14 आयु वर्ग के 1 लाख 25 हजार से ज्यादा बच्चों को कोविड का वैक्सीन लगाया जा चुका है। मंगलवार से कार्यक्रम में गति लाकर शेष बच्चों का भी व्यापक स्तर पर टीकाकरण किया जाएगा। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री परसादी लाल मीणा ने बताया कि प्रदेश में 16 मार्च से 12 से 14 वर्ष की आयु के बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि होली के चलते यह कार्यक्रम अभी गति पकड़ नहीं पा रहा पाया था। अब त्यौहार के बाद इसमें गति लाकर सभी बच्चों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है।

चिकित्सा मंत्री ने सभी अभिभावकों से भी सम्बन्धित आयु वर्ग का टीकाकरण करवाने की अपील की है। उन्होंने बताया कि विदेशों में कोरोना संक्रमण के मामले वापस आने लगे हैं, ऐसे में समय पर टीकाकरण करवाकर हम बच्चों को इस महामारी से बचा सकते हैं। उन्होंने बताया कि अभिभावक ऑफलाइन या ऑनलाइन दोनों तरह से रजिस्ट्रेशन करवाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं।

श्री मीणा ने बताया कि प्रदेश में 30 लाख से ज्यादा कार्बिवैक्स वैक्सीन केंद्र सरकार से प्राप्त हो चुकी है और चिकित्सा संस्थानों में भी उपलब्ध करवा दी गई है। उन्होंने कहा कि 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों को प्रथम एवं द्वितीय डोज के मध्य 28 दिन के अन्तराल रखा जायेगा। प्रदेश में कुल 12 से 14 वर्ष के कुल 30 लाख 87 हजार लक्षित लाभार्थियों का टीकाकरण किया जाना है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper