रामराज्य रथ यात्रा को रोकने की मांग उठाने वाले पाकिस्तानी एजेंट: विहिप

अयोध्या। विश्व हिन्दू परिषद ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या के कारसेवकपुरम् से 13 फरवरी, 2018 को रवाना हुई रामराज्य रथ यात्रा को रोकने की मांग उठाने वाले पाकिस्तानी एजेंट हैं। उल्लेखनीय है कि 13 फरवरी, 2018 को अयोध्या से देश के छ: राज्यों और छ: हजार किलोमीटर की दूरी तक करने के लिए रामराज्य रथ यात्रा की रवानगी की गई थी।

यह रथ कई राज्यों की सीमा को पार करते हुये तमिलनाडु पहुंचा हैं, जहां पर तमिलनाडु के तीन निर्दलीय विधायकों ने सदन से बहिर्गमन कर इसे रोके जाने की मांग की है। विहिप का कहना है कि निर्दलीय विधायक पाकिस्तानी एजेंट हैं। इनका यह विरोध रामराज्य रथ यात्रा के लिये नहीं बल्कि हिन्दुओं के सामूहिक एकजुटता को देखकर किया जा रहा है। कट्टर और राष्ट्र विरोधी मुस्लिम शक्तियां अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण के साथ ही देश में रामराज्य की परिकल्पना को साकार नहीं होने देना चाहती हैं।

विहिप के प्रान्तीय प्रवक्ता शरद शर्मा ने कहा कि भगवान श्रीराम सामाजिक और धार्मिक जीवन मूल्यों के रक्षण संवर्धन करने वाले हैं। रामराज्य की भांति अब तक कोई शासन नहीं रहा। महात्मा गांधी ने स्वयं रामराज्य को आदर्श और जन कल्याणकारी बताया और इसकी फिर से स्थापना का भरसक प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper