राहुल गांधी के खिलाफ एक करोड़ का मानहानि का दावा

हमीरपुर ब्यूरो। हमीरपुर जिला मुख्यालय में शुक्रवार को एक अधिवक्ता ने कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं लोकसभा सदस्य राहुल गांधी के खिलाफ एक करोड़ का मानहानि का दावा यहां सीजेएम की अदालत में किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक बयान देने में राहुल गांधी पर एक करोड़ का जुर्माना करने की मांग अदालत से की है। सीजेएम ने अधिवक्ता के बयान भी दर्ज कर लिये हैं।

हमीरपुर नगर के रमेड़ी मुहाल निवासी अवध नरेश सिंह चंदेल अधिवक्ता हैं। वह भारतीय जनता पार्टी के आजीवन सदस्य भी हैं। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं लोकसभा सदस्य राहुल गांधी के खिलाफ शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर करते हुये एक करोड़ का मानहानि का दावा किया है। उनके कोर्ट में बयान भी दर्ज हो गये हैं। इस मामले की सुनवाई शनिवार को होगी। अधिवक्ता ने 18 मार्च 2018 को राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ दिये गये अपमानजनक बयानों की सीडी व अन्य प्रपत्र कोर्ट में पेश की है।

उन्होंने बताया कि राहुल गांधी के विवादित बयान से प्रधानमंत्री व भारतीय जनता पार्टी की प्रतिष्ठा को हानि पहुंची है साथ ही उन्हें भी गहरा आघात पहुंचा है। देश के प्रधानमंत्री को झूठे व तुछ बयान से वह अपने को अपमानित महसूस कर रहे हैं। राहुल गांधी प्रधानमंत्री के खिलाफ असत्य, भ्रामक एवं निराधार बयानबाजी कर रहे हैं, जबकि नरेन्द्र मोदी ने सम्पूर्ण भारत देश के लिये विश्व स्तर पर प्रसिद्धि लाने के लिये अत्यधिक मेहनत की है।

अधिवक्ता ने राहुल गांधी के खिलाफ धारा-500 आईपीसी के तहत दण्डात्मक कार्यवाही करने के साथ ही धारा-&57 आईपीसी के तहत एक करो रुपये का मानहानि का दावा किया है। अधिवक्ता ने बताया कि कोर्ट में सीजेएम विकास कुमार ने उनके बयान दर्ज कर लिये हैं और वह इस मानहानि के मुकदमे की सुनवाई शनिवार को करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper