रिश्ते हुए तार-तार, जमीन के लिए भाई ने किया भाई का क़त्ल

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जनपद के मलवां थाना क्षेत्र के जैनपुर गांव में रविवार की रात सात बिसवा जमीन हड़पने के लिए एक युवक ने कुल्हाड़ी से हमला कर अपने बड़े भाई की हत्या कर दी। पत्नी रात भर मदद की गुहार लगाती रही, लेकिन कोई सामने नहीं आया। सोमवार की सुबह ग्राम प्रधान की सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मृतक की पत्नी से पूछताछ के बाद जांच में जुट गई। जैनपुर गांव निवासी लखनलाल पटेल का बेटा महेन्द्र पटेल अपनी जमीन बेचकर बड़े भाई दीपक पटेल (35) की जमीन में हिस्सा मांग रहा था।

रविवार रात दीपक अपनी दो बेटियों गुड़िया व छोटी के साथ चारपाई पर लेटा था। पत्नी चन्द्रवती नीचे जमीन पर बैठी थी। तभी छोटा भाई महेन्द्र अपनी मां माया देवी के साथ आया और दीपक पर कुल्हाड़ी से हमला बोल दिया। पत्नी ने देवर को पकड़ने का प्रयास किए तो उसकी भी पिटाई कर दी। महेन्द्र ने ताबड़तोड़ कुल्हाड़ी के वार कर भाई दीपक की हत्या कर दी। पत्नी चन्द्रवती रात भर ग्रामीणों से पुलिस बुलाने के लिए गुहार लगाती रही। दहशत के आगे किसी ने महिला की बात नहीं सुनी। सोमवार की सुबह ग्राम प्रधान की सूचना पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल शुरू कर दी है। आरोपी नशे व जुए का आदी है। गांव के लोग भी आजिज थे। पिता लखनलाल पटेल के हिस्से में करीब दो बीघा जमीन थी।

उसकी मौत के बाद जमीन चारों बेटों के नाम हो गई। अनिल व सर्वेश की बीमारी से मौत हो गई थी। मृतक दो भाईयों के हिस्से के जमीन महेन्द्र ने हथिया ली थी, अब दीपक की जमीन पर हिस्सा मांग रहा था। पुलिस आरोपी की मां को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। थानाध्यक्ष अनूप कुमार सिंह का कहना है कि पत्नी की तहरीर पर आरोपी महेन्द्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। आरोपी की तलाश जारी है। हत्यारोपित भाई की सात बिसवा जमीन हड़पना चाहता था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper