रूसी सेना ने तबाह किया दुनिया का सबसे बड़ा विमान, 1980 में हुआ था तैयार; एक बार में ले जा सकता है 640 टन सामान

कीव: दुनिया का सबसे बड़ा हवाई जहाज एंटोनोव 225 मारिया कीव के पास स्थित होस्टोमेल एयरपोर्ट पर रूसी हमले में तबाह हो गया है। रूसी सेना ने इस विमान पर हमला किया था, जिसके बाद इसमें आग लग गई। इस विमान को यूक्रेन की सरकारी डिफेंस कंपनी यूक्रोबोरोनप्रोम ने तैयार किया था। रविवार को यूक्रेन ने इस विमान के मार गिराए जाने की पुष्टि की। यूक्रेन की डिफेंस कंपनी ने रविवार को टेलीग्राम पर अपने सबसे बड़े विमान को मार गिराए जाने की जानकारी दी।

हालांकि यह यात्री विमान नहीं था बल्कि मालवाहक था। यूक्रोबोरोनप्रोम ने कहा कि यूक्रेन के सबसे बड़े मालवाहक मिवान An-225 Mriya को रूसी हमले में मार गिराया गया है। यह हमला होस्टोमेल एयरपोर्ट पर हुआ। यह विमान बड़ी लागत से तैयार किया गया था और इसे दोबारा चालू हालत में लाना मुश्किल होगा। यूक्रेनी कंपनी का कहना है कि इस विमान को दोबारा तैयार करने में 3 अरब डॉलर की बड़ी लागत लगेगी और लंबा वक्त भी लगेगा। इस विमान को 1980 में तैयार किया गया था। इसे दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे ज्यादा वजनी एयरक्राफ्ट माना जाता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस विमान के जरिए एक बार में 640 टन सामान लादा जा सकता है।

गौरतलब है कि बीते सप्ताह से रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है, जिसमें बड़े पैमाने पर तबाही हो चुकी है। एक तरफ रूस की सेना यूक्रेन की राजधानी कीव तक पहुंच गई है तो वहीं यूक्रेन का कहना है कि उसने रूस के 4,500 सैनिक मार गिराए हैं। इस बीच दोनों देशों ने बातचीत के संकेत दिए हैं। आज ही बेलारूस में रूस और यूक्रेन के प्रतिनिधियों के बीच बातचीत होनी है। उम्मीद की जा रही है कि इस दौरान युद्ध विराम पर सहमति बन सकती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper