रूहेलखंड विश्वविद्यालय की डा0आभा त्रिवेदी नागपुर में आयोजित इन्डियन साईंस काफ्रेंस में सम्मानित

बरेली , 08 जनवरी । आर.टी.एम यूनिवर्सिटी नागपुर में हाल ही में आयोजित इंडियन साइंस कॉन्फ्रेंस 2022-23 के एनिमल वेटनरी तथा फिशरी सेक्शन मे म.ज्यो.फु.रुहेलखंड विश्विद्यालय, बरेली की डॉ आभा त्रिवेदी एवं उनके शोध छात्र जुम्मन बक्श ने सहभागिता की ।

डॉ आभा त्रिवेदी ने माइक्रो प्लास्टिक प्रदूषण तथा उसके पर्यावरणीय दुष्प्रभावों पर अतिथि व्याख्यान दिया जिसके लिए उन्हें शॉल एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया । डॉ आभा त्रिवेदी रूहेलखंड क्षेत्र मे माइक्रो प्लास्टिक से मछलियों पर होने वाले दुष्प्रभावों पर पिछले 2 वर्षो से कार्य कर रही है उनकी योजना मैमल्स पर भी प्लास्टिक के दुष्प्रभाव देखने तथा जनता में प्लास्टिक प्रदूषण के प्रति जागरुकता फैलाने की है ।

डॉ आभा त्रिवेदी के शोध छात्र जुम्मन बक्श सी.एस.आई.आर, यू जी सी नेट जे.आर.एफ क्वालीफाई है उन्होने रामगंगा नदी में ब्रास फैक्ट्रियों से निकलने वाले केमिकल का मछलियों पर दुष्प्रभाव पर पोस्टर प्रजेंट किया जिसे काफी सराहा गया ।

बरेली से ए सी सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper