लखनऊ पहुंचा पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का पार्थिव शरीर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश व उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री के साथ ही केंद्रीय मंत्री रहे नारायण दत्त तिवारी का पार्थिव शरीर शनिवार को लखनऊ पहुंचा। अमौसी एयरपोर्ट पर ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही, डा. रीता बहुगुणा जोशी, मुख्य सचिव अनूप चन्द्र पाण्डेय, मंत्री मोहसिन रजा, स्वाति सिंह, एनडी तिवारी की बहु अपूर्वा तिवारी सहित मंत्रिमण्डल के अन्य सदस्य नारायण दत्त तिवारी को श्रद्धांजलि देंगे और उनके पार्थिव शरीर को लेकर विधानभवन के लिए रवाना होंगे। एयरपोर्ट पर भाजपा के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे।

उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन भी लखनऊ पहुंचे हैं। उन्होंने कहा कि मेरा उनसे पिता-पुत्र का संबंध रहा है। उनके निधन से मेरी व्यक्तिगत और राष्ट्र की भारी क्षति हुई है। लखनऊ के विधान भवन में उनका पार्थिव लोगों के दर्शनार्थ रखा जाएगा। एनडी तिवारी का पार्थिव शरीर उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा नई दिल्ली से एयर एम्बुलेंस से लेकर अमौसी एयरपोर्ट पहुंचे। उनके पुत्र रोहित शेखर तिवारी भी साथ रहे।

जबकि स्व. एनडी तिवारी को श्रद्धासुमन अर्पित करने के लिए कांग्रेस पार्टी से एक भी नेता अमौसी एयरपोर्ट नहीं पहुंचा। इसे लेकर कई प्रकार की चर्चाओं होती रहीं। विधानभवन में विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित व गणमान्य व्यक्ति विधानभवन में एनडी तिवारी के पार्थिव शरीर पर श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। यूपी सरकार ने 20 व 21 अक्टूबर को राजकीय शोक की घोषणा की है।

इसके बाद दोपहर तीन बजे उनके पार्थिव शरीर को एयर एम्बुलेंस के जरिये लखनऊ से उत्तराखण्ड के पंतनगर रवाना कर दिया जाएगा। जहां पर रविवार को उनकी अन्त्येष्टि होगी। कल उनके अंतिम दर्शन और अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री समेत राज्य की पूरी कैबिनेट रविवार को हल्द्वानी पहुंचेगी। काठगोदाम स्थित सर्किट हाउस में तिवारी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिये रखा जायेगा। रविवार सुबह दस बजे सर्किट हाउस से एनडी की अंतिम यात्रा प्रारंभ होगी। अंतिम यात्रा रानीबाग के चित्रशिला घाट पहुंचेगी।

उल्लेखनीय है कि एनडी तिवारी 93 वर्ष की उम्र में गुरुवार शाम को उनका निधन हो गया। दिल्ली के साकेत में मैक्स अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। एक वर्ष से उनकी तबीयत काफी नाजुक थी और पिछले कुछ महीनों से तो तिवारी अस्पताल में ही भर्ती थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper