लखनऊ में फायर सिक्योरिटी जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

लखनऊ: प्रमित कुमार सिंह चैप्टर चेयरमैन (Indian Industry Association) बाराबंकी की अध्यक्षता में आम सभा बैठक (जनरल बॉडी मीटिंग) आई आई ए भवन गोमती नगर मे दिनांक 21/9/22 को संपन्न हुई.

मुख्य अतिथि एवं वक्ता श्री के एम भार्गव अलकनंदा फायर सेफ्टी वर्क के साथ में “फायर सिक्योरिटी एसोसिएशन ऑफ इंडिया” के ज्वाइंट सेकरेटरी (यूपी चाप्टर) श्री प्रकाश एवं प्रतिनिधि सुभाष गुप्ता ने भी औद्योगिक इकाइयों में अग्नि सुरक्षा संबंधी महत्वपूर्ण जानकारियां अन्य उद्यमी सदस्यों को दी.

“अग्नि सुरक्षा चर्चा का मुख्य बिंदु अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं था” बल्कि आग लगने पर फैक्ट्री में किस प्रकार से फैक्ट्री की सुरक्षा के साथ-साथ कर्मचारियों की सुरक्षा आग लगने पर इमरजेंसी फायर एग्जिट स्मोक एग्जास्ट आदि विषयों पर बारीकी से विचार विमर्श हुआ.

साथ ही साथ चर्चा मे यह बात सामने आई कि “यूपीएसआईडीसी के द्वारा विकसित औद्योगिक क्षेत्र में अन्य विकास कार्यों से पहले यूपीएसआईडीसी को अग्नि सुरक्षा संबंधित इंतजाम करके भूखंड आवंटन करना चाहिए” क्योंकि यदि छोटे भूखंडों में फायर की गाड़ी आने जाने का रास्ता ,आग बुझाने के लिए वाटर टैंक, और रेन वाटर हार्वेस्टिंग आदि के लिए स्थान छोड़ा जाता है तो उद्योग लगाने के लिए स्थान ही नहीं रह जाता है.

साथ ही साथ फायर विभाग की एनओसी प्राप्त करने का सरकारी सिस्टम काफी पुराना और हां व्यावहारिक है जिसमें सुधार के लिए फायर डिपार्टमेंट के पास अधिकार नहीं है गृह विभाग के हस्तक्षेप से ही नियमावली में सुधार करके सरल पॉलिसी जारी कराई जा सकती है.

आईआईए पहले से ही मांग कर रहा है फायर और पॉल्यूशन विभाग से अनापत्ति मिलने के लिए “निरीक्षण की थर्ड पार्टी व्यवस्था” की जानी चाहिए. बैठक में चैप्टर सचिव विधु गुप्ता ,कोषाध्यक्ष विनय कुमार सिंह, उपाध्यक्ष कैप्टन राजेश तिवारी ,डिविजनल चेयरमैन अल्केश चंद सोती, वरिष्ठ ईसी सदस्य श्री दिलीप सतीजा , संयुक्त सचिव अंकुर अग्रवाल, अंकित जैन, शिवम सतीजा, पूर्व चेयरमैन अनिल दीप आनंद ,संजय गुप्ता बलवंतराव ,सहित 40 अन्य उद्यमी गण उपस्थित थे.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper