लखनऊ में वृद्धा की गला दबाकर हत्या

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखनऊ जनपद के माल के बदैया गांव में बुजुर्ग महिला की हत्या कर दी गयी। बुधवार को उसका शव घर के अंदर कमरे में फर्श पर पड़ा मिला। हत्या की खबर से गांव में सनसनी फैल गयी। खबर मिलते ही शहर में रहने वाले दोनों बेटे भी आ गये। घटना की सूचना मिलते ही सीओ मलिहाबाद संतोष कुमार सिंह व माल पुलिस मौके पर पहुंची। मृतका के चेहरे व गले पर निशान मिले हैं। परिजनों ने लूट के बाद हत्या की आशंका जाहिर की है। वहीं, पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

70 वर्षीय इंदारा देवी बदैया गांव में रहती थी। करीब तीन साल पहले उसके पति बचान की मौत हो गयी थी। उनका बड़ा बेटा राम औतार मड़ियांव के फैजुल्लागंज में परिवार संग रहकर सब्जी बेचता है। छोटा बेटा गुड्डू नाका के राजेन्द्र नगर में सब्जी बेचने का काम करता है। मंगलवार को इंदारा ने गांव के एक व्यक्ति को 900 रुपये में फूस बेचा था। उक्त शख्स ने उसे 400 रुपये देकर शेष रकम बाद में देने की बात कही थी। रुपये लेने के बाद इंदारा घर चली गयी थी। बुधवार सुबह काफी देर तक वह घर से बाहर नहीं निकली तो ग्रामीणों को शक हुआ।

ग्रामीणों ने आवाज दी, जवाब नहीं मिला तो धक्का दिया। ग्रामीण अंदर गये तो फर्श पर इंदारा का शव पड़ा था। चेहरे से खून रह रहा था।ग्रामीणों ने घटना की सूचना बेटों राम औतार, गुड्डू व माल पुलिस को दी। सूचना के दो घण्टे बाद माल पुलिस मौके पर पहुंची। इसी बीच खबर मिलते ही सीओ संतोष कुमार सिंह भी मौके पर पहुंचे। पड़ताल के दौरान इंदारा के चेहरे पर चोट व गले पर खरोच के निशान मिले। आशंका जतायी जा रही है कि इंदारा की गला दबाकर हत्या की गयी है।बेटों ने लूटपाट के बाद हत्या की आशंका जाहिर की है।

वहीं, सीओ मलिहाबाद संतोष कुमार सिंह ने बताया कि इंदारा बेहद की गरीब थी। ऐसे में लूटपाट की बात गलत है। गले पर खरोच के निशान मिले हैं। लग रहा है कि किसी ने गला दबाकर मारा है। फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति साफ हो जाएगी। फिलहाल बेटे गुड्डू की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper