लखनऊ में 280 करोड़ की फ्लाईओवर परियोजना का लोकार्पण-शिलान्यास, राजनाथ बोले- कोरोना काल में भी बेहतर काम किया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में टेढ़ी पुलिया फ्लाईओवर का लोकार्पण और खुर्रम नगर फ्लाईओवर का शिलान्यास रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया। शुक्रवार सुबह ही रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी लखनऊ पहुंच गए थे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मेरे संसदीय क्षेत्र लखनऊ में ट्रैफिक जाम से मुक्ति हेतु पिछले कुछ वर्षों में कई फ़्लाइओवरों का निर्माण कार्य किया गया है। इसी क्रम में आज एक और फ़्लाइओवर का लोकार्पण किया गया है। साथ ही एक नए फ़्लाइओवर की आधारशिला भी रखी गई है। इन फ़्लाइओवरों के बन जाने से जनता के लिए आवागमन सुगम होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के बावजूद फ्लाईओवर का निर्माण तय समय पर हुआ।

राजनाथ सिंह ने कहा कि लखनऊ में 36 एकड़ में डीआरडीओ का केंद्र बनेगा। उधर, गडकरी ने सात नए प्रोजेक्ट को अनुमति दी और कहा कि कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेसवे दिसंबर 2022 तक पूरा होगा। चार महीने में शिलान्यास होगा । इसके अलावा यूपी में 3.5 लाख करोड़ के नए काम शुरू होंगे । उन्होंने कहा कि जो अधिकारी काम नहीं करेंगे, वीआरएस दिया जाएगा। दो साल के अंदर इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमत डीजल गाड़ियों के बराबर आ जाएगी। लिथियम बैटरी पर काम चालू होगा।

केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमने तीन विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं। विश्व में सबसे तेज निर्माण करने केे मामले में भारत अब पहले स्थान पर आ गया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लखनऊ में 280 करोड़ रुपये की लागत से दो फ्लाईओवर परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास कार्यक्रम में उपस्थित सभी महानुभावों का हृदय से स्वागत एवं अभिनंदन करता हूं। उन्होंने कहा कि 2014 में शपथ लेते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से विकास का संकल्प किया था। हमें प्रसन्नता है कि जीवन के प्रत्येक क्षेत्र चाहे वह लोककल्याण से जुड़ी योजनाएं हों या इंफ्रास्ट्रक्चर से, आज प्रदेश में तेजी से आगे बढ़ रही हैं।

इससे पूर्व उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने कहा क‍ि लखनऊ में पुलों का जाल बिछाने का काम रक्षामंत्री राजनाथ सिंह व सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के योगदान की वजह से ही हो सका है। प्रदेश विकास के पथ पर निरंतर आगे बढ़ रहा है। उपमुख्यमंत्री केशव प्रशाद मौर्या ने कहा कि लखनऊ में फ्लाईओवरों के निर्माण से सड़कों पर वाहनों का आवागमन सुलभ होगा, जिससे जनता को बेहद सुविधा मिलेगी।

लखनऊ में इस फ्लाईओवर का निर्माण कार्य जून 2019 में शुरू हुआ था। 1.83 किलोमीटर लंबे फ्लाईओवर का निर्माण कार्य कोरोना काल के बावजूद तय समय पर पूरा कर लिया गया है। इस फ्लाईओवर के बनने से सीतापुर रोड से मुंशी पुलिया होते हुए पॉलीटेक्निक वाले मार्ग के साथ-साथ कालिदास मार्ग और एयरपोर्ट तक जाने वाले लोगों को सुविधा मिलेगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper