लखनऊ यूनिवर्सिटी के 100 साल पूरे, सीएम योगी ने शताब्दी समारोह का किया शुभारंभ

लखनऊ यूनिवर्सिटी गुरुवार को 100 साल का हो गया। शताब्दी समारोह को खास तरीके से मनाने के लिए 19 से 25 नवंबर तक 7 दिनों तक कई कार्यक्रम होंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने गुरुवार को शताब्दी समारोह का उद्घाटन किया। सीएम योगी ने कहा कि आज LU गर्व से कह सकता है कि हमने देश को राष्ट्रपति, न्यायमूर्ति दिया। प्रशासनिक अधिकारी और लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए राजनेता दिए। शोध के लिए वैज्ञानिक दिए तो अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए उद्योगपति भी दिए।

सीएम योगी ने कहा कि भारतीय मनीषियों ने कभी नहीं कहा कि परीक्षा पास कर लेना ही सच्चा ज्ञान है। 2022 तक नई शिक्षा नीति देश भर में लागू हो जाएगी। नई शिक्षा नीति से ज्ञान और रोजगार में समन्वय से युवा स्वावलंबन की तरफ बढ़ेगा। मैं अक्सर कहता हूं कि हमने शिक्षण संस्थान खोल दिए, लेकिन जन सरोकार से उनको दूर कर दिया। सिर्फ शिक्षक और छात्र इसका हिस्सा नहीं, अभिभावकों, पुरातन छात्रों की बड़ी भूमिका है। इस समारोह का समापन 25 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। तब वे वर्चुअल तरीके से छात्रों को संबोधित करेंगे। पूरे यूनिवर्सिटी कैंपस को भव्य तरीके से सजाया गया है। छात्र कैंपस में गीत-संगीत के कार्यक्रम करते नजर आए।

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि आज हम शताब्दी समारोह की शुरुआत कर रहे हैं। ये अविस्मरणीय है, जो 100 साल की स्वर्णिम यात्रा है। इस विश्वविद्यालय ने कई महान विभूतियों को हमें दिया है। शिक्षा के प्रति सीएम का विशेष लगाव है। यही वजह है कि वो यहां पहुंचे। सीएम ने कोविड के दौरान अच्छे तरीके से परीक्षाएं कराई। अपनी उपलब्धियों के चलते लखनऊ विश्वविद्यालय शीर्ष में पहुंचा। कुलपति आलोक राय ने कहा कि, LU के 100 साल पूरे होने पर हो रहे इस शताब्दी समारोह पर गौरवान्वित महसूस हो रहा है। एलयू ने कई मुकाम हासिल किए। ये सरकार उच्च शिक्षा के क्षेत्र में कितनी मार्गदर्शक है, ये इस बात का प्रतीक है कि हम लोगो के निवेदन पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस शताब्दी समारोह में आने का निमंत्रण स्वीकार किया। मैं सीएम व डिप्टी सीएम का का आभार व्यक्त करता हूं।

कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार राय ने बताया कि शताब्दी वर्ष समारोह के पहले दिन पद्मश्री मालिनी अवस्थी और कवि यतीन्द्र मिश्र कार्यक्रम पेश करेंगे। सप्ताह भर चलने वाले इस समारोह में हर दिन मुख्य अतिथि के तौर पर बड़ी हस्तियां शिरकत करेंगी। इनमें बॉलीवुड कलाकार अनुपम खेर‚ युवा कवि कुमार विश्वास‚ केरल के गर्वनर सलीम आरिफ आदि शामिल होंगे। कार्यक्रम के दौरान फिल्म अभिनेता अनुपम खेर वर्चुअल तौर पर शिरकत करेंगे।

उन्होंने कहा कि शताब्दी वर्ष के दौरान यूनिवर्सिटी में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए स्टेट गवर्नमेंट को 50 करोड़ और सेंट्रल गवर्नमेंट को 100 करोड़ रुपए का प्रस्ताव भेजा गया है। 25 नवंबर को शताब्दी वर्ष के समापन अवसर पर यूनिवर्सिटी की तरफ से डाक टिकट व चांदी व अन्य धातुओं से बना 100 रुपए का सिक्का जारी करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए डाक विभाग और भारत सरकार से प्रयास किया जा रहा है। उधर 19 से 25 नवम्बर तक लखनऊ यूनिवर्सिटी में पढ़ाई बन्द रहेगी। लखनऊ यूनिवर्सिटी के छात्रों की टीम ने अपना एक एंथम तैयार किया है‚ जो कि शताब्दी समारोह पर रिलीज किया जाएगा। इसे स्टूडेंट्स गाते हुए नजर आएंगे। इसके अलावा LU अपनी एक पुस्तक का भी विमोचन करेगा‚ जिसमें LU का पूरा इतिहास समाहित होगा। इसके अलावा यूनिवर्सिटी द्वारा भविष्य में किये जाने वाले कार्यों का भी जिक्र होगा।

शताब्दी समारोह में 24 नवंबर को एलुमिनाई मीट का आयोजन किया जाएगा‚ जिसमें केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद शिरकत करेंगे। इस इवेंट को दो भागों में बांटा गया है। 24 नवंबर को अंडर 50 के एलुमिनाई आएंगे। वहीं दूसरे दिन 24 नवंबर को समारोह के अंतिम दिन 50 वर्ष से पर व सभी एलुमिनाई शिरकत करेंगे। उधर, शताब्दी समारोह केवल LU के स्टूडेंट्स तक सीमित नहीं रहेगा, बल्कि राजधानी के स्कूलों के बच्चों को भी यहां विजिट के लिए बुलाया जाएगा। जिसके लिए राजधानी के कई स्कूलों से टाईअप किया जा रहा है। इसी के हिसाब से बच्चों को LU में विजिट करवाया जाएगा। 25 नवंबर को कार्यक्रम का समापन होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper