लखनऊ-रायबरेली के बीच मालगाड़ी भेजकर बहाल की गई लाइन

लखनऊ ब्यूरो ।रायबरेली जिले में स्थित हरचंदपुर रेलवे स्टेशन पर न्यू फरक्का एक्सप्रेस के बेपटरी होने से क्षतिग्रस्त लाइन की मरम्मत का कार्य गुरुवार को पूरा हो गया। गुरुवार को सुबह के समय लखनऊ से मालगाड़ी भेजकर लाइन संख्या तीन शुरू कर दिया गया। इसके बाद शाम तक रेल यातायात पूरी तरह से बहाल हो जाएगा।

लखनऊ मंडल रेल प्रबंधक सतीश कुमार के मुताबिक, हरचंदपुर रेलवे स्टेशन पर लाइन की मरम्मत का कार्य गुरुवार की सुबह तक पूरा हो गया और मालगाड़ी को गुजार कर इसकी जांच हो गई है। जहां से कुछ घंटों के बाद लाइन संख्या तीन से ट्रेनें 20 किमी. प्रतिघंटा की रफ्तार से निकाली जा सकती हैं। स्टेशन पर लाइन संख्या एक और दो पर भी कार्य जारी है। इसे शाम तक पूरी तरह से मरम्मत कर लिया जाएगा।

रेल दुर्घटना के कारण कुछ ट्रेनों को गुरुवार को भी निरस्त किया गया है। इसमें वाराणसी से लखनऊ इण्टरसिटी, लखनऊ से इलाहाबाद गंगा गोमती एक्सप्रेस, कानपुर से प्रतापगढ़ जाने वाली इण्टरसिटी एक्सप्रेस, प्रयाग से बरेली एक्सप्रेस ट्रेनें शामिल है। लिहाजा, रायबरेली के हरचंदपुर से होकर गुजरने वाली कई ट्रेनों का रूट भी गुरुवार को बदला रहेगा। इसमें कई महत्वपूर्ण ट्रेनें नौचण्डी एक्सप्रेस, त्रिवेणी एक्सप्रेस, पंजाब मेल एक्सप्रेस, काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस शामिल है।

उल्लेखनीय है कि बुधवार की सुबह हरचंदपुर रेलवे स्टेशन पर न्यू फरक्का एक्सप्रेस की कई बोगियां बेपटरी हो गयी थीं। हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई थी, जबकि कई लोग घायल हुए थे। इसके बाद एनडीआरएफ की टीम द्वारा बचाव एवं राहत कार्य शुरू किया था। साथ ही रेलवे प्रंबंधन द्वारा लाइन की मरम्मत का भी कार्य चल रहा था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper