लॉकडाउन ने लगाई फूल उत्पादन करने वाले किसानों को लाखों की चपत लगाई

लखनऊ: लॉकडाउन ने फूल उत्पादन करने वाले किसानों को लाखों की चपत लगाई है। वजह जिस समय पाबंदी लगी उस समय सहालग और बड़े कार्यक्रमों की बुकिंग हो चुकी थी लेकिन कोरोना के चलते लगी रोक से सब कुछ थम गया। नतीजा फूल उत्पादन में लगे सौ से अधिक किसानों का कारोबार चौपट हो गया । कमाई के सीजन में पाबंदी ने सभी किसानों की कमर तोड़कर रख दी।

मुरादाबाद जिले में मुख्यत: गुलाब और गेंदा के फूलों का उत्पादन होता है, इसमें गेंदा जहां 30 हेक्टेयर में तो वहीं गुलाब का उत्पादन 7 हेक्टेयर के आसपास होता है। इस कारोबार में सौ से अधिक किसान लगे हैं। रामगंगा पार गेंदा का उत्पादन होता है, वहीं गुलाब की पैदावार शहर के आसपास इलाकों में होती है। रामगंगा पार जब हिन्दुस्तान टीम फूलों की हकीकत जानने पहुंची तो वहां दो बीघे में गेंदा के फूल की खेती करने वाले किसान खमानी से मुलाकात हुई।

जब गेंदा और गुलाब के फूलों के पैदावार के बारे में बात की, तो बोले साहब लॉकडाउन ने तो फूल का उत्पादन करने वाले किसानों को लाखों को चोट दे दी है। वहीं जिला उद्यान अधिकारी सुनील कुमार कहते हैं कि लॉकडाउन में फूलों का उत्पादन करने वाले किसानों का नुकसान हुआ है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper