लॉकडाउन में चल रही थी रईसों की अय्याशी, स्पा पार्लर की आड़ में देह व्यापार का पर्दाफाश

जमशेदपुर: देशभर में स्टील सिटी के नाम से पहचान रखने वाली जमशेदपुर सिटी की आबोहवा दिनो-दिन बिगड़ती जा रही है। कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए देश में लॉकडाउन लगा हुआ है और कोरोना के संकट से पूरा देश जूझ रहा है। ऐसे में जमशेदपुर में स्पा पार्लर की आड़ में देह व्यापार का खुलासा हुआ है। यहां कोलकाता की एक महिला एक महीने से लॉकडाउन में देह व्यापार चला रही थी।

जमशेदपुर के 3 सितारा होटल में रविवार को स्पा पार्लर पर पड़े छापे में शहर के रईसजादे अय्याशी करते मिले। यह हालत तब हैं जब पूरे देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण लॉकडाउन लगा हुआ है। पुलिस ने होटल में देह व्यापार करवाने के जुर्म में होटल मालिक और उसके मैनेजर सहित लड़की को भी जेल भेज दिया। बाकी लोगों से पुलिस पूछताछ कर रही है। जिला पुलिस ने बिस्टुपुर के थानेदार को सस्पेंड कर दिया है और चार आरोपियों को हिरासत में ले लिया।

दरअसल, रविवार शाम को जिला पुलिस को खबर मिली थी कि यहां के एक थ्री स्टार होटल के स्पा पार्लर में बॉडी मसाज का काम चल रहा है। पुलिस ने वहां छापा मारा तो वहां तीन लोग मिले जो शहर के नामी और बिजनेसमैन लोग थे। पहले उस होटल को सील किया गया और फिर सीसीटीवी फुटेज खंगाला गया तो होटल में एक महिला मिली जो एक महीने से इस होटल में रह रही थी।

जमशेदपुर के एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि जब इस मामले में सख्ती दिखाई गई तो उसने होटल में स्पा पार्लर की आड़ में देह व्यापार की धंधे की बात स्वीकार कर ली। पुलिस ने होटल के मालिक समेत तीन लोगों और कोलकाता की महिला को हिरासत में ले लिया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper