लॉकडाउन में बदला मौसम का मिजाज, दिल्ली-एनसीआर में तेज हवाओं के साथ हुई बारिश

नई दिल्ली : आज यानी रविवार को दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में मौसम पूरी तरह बदल गया. कई इलाकों में घने बदल छाए हुए दिखे. जानकारी के अनुसार, पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर और लक्ष्मी नगर इलाके में हलकी बारिश भी हुई. जिसके चलते जनता को गर्मी से थोड़ी राहत भी मिली. बीते दो दिनों से मौसम गर्म होता दिखाई दे रहा है. ऐसा कहा जा रहा है कि पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी भारत को रविवार से प्रभावित करेगा. इस कारण रविवार से बुधवार तक क्षेत्र में काफी भारी बारिश हो सकती है.

बता दें कि इसके पहले आईएमडी ने दिल्ली में करीब सात मई तक मानसून के दस्तक देने का पूर्वानुमान लगाया था. स्काईमेट वेदर के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से सोमवार से मौसम बदल सकता है. इस दौरान अगले तीन दिनों तक यहां बादल छाए रह सकते हैं औऱ साथ ही बारिश होने की संभावना भी है.

Weather के अनुसार, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड और सिक्किम पर बहुत भारी बारिश, बर्फ गिरने की संभवना है. जबकि असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में गरज के साथ बारिश के छीटें पड़ने के आसार हैं. वहीं, अरुणाचल प्रदेश और हिमाचल प्रदेश पर हल्की बारिश, हिमपात और गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं. पश्चिम बंगाल, झारखंड, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, तटीय कर्नाटक और केरल में हल्की बारिश होने की संभावना है.

शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कई जिलों में तेज आंधी और बारिश के साथ ओले गिरे, जिसके चलते मौसम काफी सुहाना हो गया. लेकिन इस मौसम के बदलव से आम लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.

मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार, गुरुवार की रात के बाद से ही कई जिलों में तेज बारिश शुरू हो गई. जिसके चलते खेतों में पड़ी गेहूं, अरहर व मेंथा की फसल ख़राब हो गई. दूसरी ओर दो लोगों की मौत की खबर भी सामने आई. बता दें कि मौसम विभाग ने पांच मई तक बारिश का पूर्वानुमान लगाया है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper