लोकमंगल दिवस में महापौर संयुक्ता भाटिया ने किया जनता की शिकायतों का निस्तारण

लखनऊ: जुलाई माह के दूसरे मंगलवार को लोकमंगल दिवस का आयोजन जोन 3 और जोन 4 में किया गया जिसमें लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया ने जनता की समस्याओं की सुनवाई कर उनके निस्तारण हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। खदरा निवासी रौनक ने महापौर को बताया कि उनके घर के सामने स्थित नाली की सफाई नही हुई है जिसपर महापौर ने जोनल सेनेटरी ऑफिसर को समस्या निस्तारण हेतु निर्देशित किया।

अलीगंज निवासी रीना चौरसिया ने महापौर को बताया कि उनके घर के पास सफाई नही होती है, और नालियाँ चोक है जिसपर महापौर ने जोनल सेनेटरी ऑफिसर को कार्यवाही के लिए निर्देशित किया। गोमतीनगर के विराट खंड निवासी मोहन ने महापौर को बताया कि उनके घर के सामने स्ट्रीट लाइट बहुत दिनों से खराब यही जिससे अंधेरा छाया रहता है, जिसपर महापौर ने अधिशाषी अधिकारी मार्गप्रकाश को प्रकाश बिंदु सही कराने के लिए निर्देशित किया।

गोमतीनगर के विशाल खण्ड निवासी सौरभ मिश्रा ने महापौर से बताया कि उनके घर के सामने स्थित पार्क में समरसेविल का खराब ही जिससे कि पार्क में पेड़ो को पानी नही दिया जा रहा है, जिसपर महापौर संयुक्ता भाटिया ने समस्या निस्तारण के लिए महाप्रबंधक जलकल को निर्देशित किया। इस दौरान कुल 40 शिकायतें पंजीकृत की गई जिनमे अभियंत्रण की 8, कर विभाग की 9, स्वास्थ्य की 07, मार्गप्रकाश की 03, उद्यान की 02, अतिक्रमण की 02, एवं अन्य की 09 शिकायतें पंजीकृत की गयी।

इस मौके पर महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया संग अपर नगर आयुक्त पंकज सिंह, उपाध्यक्ष प्रदीप शुक्ला, के०के० जायसवाल, राघव राम तिवारी, कुमकुम राजपूत, संजय सिंह राठौर, शैलेन्द्र सिंह, भाजपा नेता शैलेन्द्र राय के साथ सम्बंधित जोनल अधिकारी के जोनल अधिकारी एवं उक्त जोन के अन्य अधिकारी- कर्मचारी उपस्थित रहें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper