वाराणसी में बीच गंगा में पलटी नाव, छह डूबे, तीन की लाश बरामद, एक की तलाश

वाराणसी: वाराणसी में सोमवार को एक बार फिर बड़ा हादसा हो गया। बीच गंगा में नाव पलटने से छह लोग डूब गए। दो लोगों को किसी तरह बचा लिया गया। एनडीआरएफ की मदद से तीन लोगों की लाश बरामद हो गई है। एक की तलाश की जा रही है। प्रभु घाट के ठीक सामने हुए हादसे में नाविक की भी मौत हो गई है।

बताया जाता है कि नाविक सहित छह लोग सवार थे। नाव में सवार फिरोजाबाद के टुंडला निवासी केशव ने बताया कि नाव में छेद था। पानी भरने से हादसा हुआ है। 5 दोस्त फिरोजाबाद के टुंडला से वाराणसी घूमने आए थे। सभी नाविक शनि की नाव पर सवार हुए थे। अचानक नाव डगमगाने लगी और पलट गई।

आसपास की नावों पर सवार लोगों ने दो लोगों को बचा लिया। कुछ लोगों को नाविक शनि ने बचाने की कोशिश की लेकिन एक साथ तीन लोगों ने उसे पकड़ लिया। इससे अन्य के साथ वह भी डूब गया। हादसे की सूचना पाकर स्थानीय पुलिस, एनडीआरएफ की 11वीं बटालियन के गोताखोर और जल पुलिस लापता हुए लोगों की तलाश में जुट गए। थोड़ी ही देर में नाविक शनि समेत तीन शवों को बरामद कर लिया गया।

पुलिस की मानें तो अभी तक ये बात सामने आ रही है कि नाव सवार सभी लोग शराब के नशे में थे। केशव और पवन को बचाया गया है। केशव ने बताया कि वह मरुधर एक्सप्रेस ट्रेन में पैंट्री कार का संचालक है।हादसे में नाविक शनि (55) समेत टुंडला के अनस (20) और इमामुद्दीन (30) की डेड बॉडी मिली है।

पुलिस का कहना है कि सभी के परिवार वालों से बात कर सूचना दे दी गई है। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। परिवार वालों के आने के बाद उनका पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा। अभी लापता संजय (36) की तलाश चल रही है।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper