विधानसभा में उठा मुद्दा, ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों का बंद हो राशन-पानी

लखनऊ: जनसंख्या वृद्धि को लेकर उत्तर प्रदेश विधानसभा में बसपा सदस्यों के इस बार ख़ास तेवर देखने को मिले। अपने अलग अंदाज से चर्चित हुए अनिल सिंह ने ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों का राशन पानी व अन्य सुविधाएं बंद करने की मांग कर डाली। अनिल सिंह का कहना था कि आबादी की दिनों दिन बढ़ रही रफ्तार को नहीं रोका गया तो सभी संसाधन कम पड़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि चाहे जितना इंतजाम कर लो बढ़ती जनसंख्या के आगे सब फेल है।

विधानसभा में उन्होंने दावा किया कि आज ईमानदारी से जनगणना करा दी जाए तो प्रदेश की आबादी तीस करोड़ से अधिक मिलेगी। अनिल का समर्थन करते हुए बसपा के असलम राइनी ने अपना अनुभव बताते हुए जर्मन की एक दवा भी सुझायी तो सदन में ठहाका गूंजा।

इसके अलावा बसपा के रितेश पांडेय के सवाल पर परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि परिवार नियोजन की जिम्मेदारी महिलाओं को दी जाती है। उन्होंने बताया कि पुरुष नसबंदी की भागीदारी मात्र एक प्रतिशत ही है। उन्होंने स्वीकारा कि नसबंदी लक्ष्य के निर्धारण पर रोक से नसबंदी दर में कमी आ रही है।

विधानसभा कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में लिए गए फैसले की जानकारी देते हुए अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने बताया कि 15 मार्च को प्रस्तावित बैठक स्थगित कर दी है, 15 मार्च को प्रस्तावित बजट 22 को होगी। 14 मार्च के बाद 22 मार्च को बैठक होगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper