व्रत से परहेज करें डायबिटीज रोगी

लखनऊ: इस बार आठ दिनों तक चलने वाले नवरात्र व्रत बड़ी संख्या में श्रद्धालु व्रत रखते हैं। इसको लेकर डाक्टर की सलाह है कि डायबिटीज रोग व्रत से परहेज करें। इसके अतिरिक्त ब्लड प्रेशर के मरीजों को दवा खाने के बाद व्रत रख सकते हैं। आठ दिनों तक सिर्फ पानी पीकर व्रत नहीं रखना चाहिए। वरना इसका स्वास्य पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। खासतौर पर शरीर में सोडियम का स्तर कम पड़ने लगता है। इसकी अनदेखी करने में मरीज के बेहोश होने की आशंका रहती है।

यह बात गोमतीनगर स्थित सहारा हास्पिटल के फिजीशियन डाक्टर स्वदेश कुमार सिंह ने एक बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा कि सही तरीके से व्रत रखना सेहत के लिए फायदेमंद साबित होता है। व्रत रखने के बाद इस बात खास ध्यान रखना चाहिए कि करीब तीन लीटर पेय पदार्थ प्रतिदिन सेवन करें, इसमें फल और जूस का सेवन मुख्य रूप से करना चाहिए। उचित तरीके से व्रत रखने पर रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है लेकिन जिनको डायबिटीज है, उन्हें व्रत नहीं रखना चाहिए, वरना यदि शुगर का स्तर मानक से कम या ज्यादा होने पर दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

ज्यादा लापरवाही से मरीज कोमा तक भी पहुंचा सकती हैं। यदि शुगर का स्तर बढ़ेगा तो प्रारम्भिक लक्षणों में उसको बार-बार पेशाब लगना और मुंह सूखने लगेगा। इसके उलट शरीर में शुगर कम होगी तो कमजोरी और बहुत तेज भूख लगती है। रोगी को ज्यादा पसीना भी आता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper