शायराना ट्वीट से राहुल ने मोदी पर साधा निशाना

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथों लिया है। राफेल फाइटर जेट करार और अमित शाह के बेटे जय शाह की वित्तीय गड़बड़ियों पर मोदी की चुप्पी को लेकर राहुल गांधी ने सवाल उठाए हैं। राहुल ने शायराना ट्वीट के जरिए इन दोनों मसलों पर मोदी को घेरने की कोशिश की।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, “चेहरे पर शिकन, माथे पर पसीना. डरे-डरे से साहेब नजर आते हैं। शाह-जादा, राफेल के सवालों पर, जाने क्यूं इनके होंठ सिल जाते हैं।” उल्लेखनीय है कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को चार रैलियां कर विपक्ष पर ताबड़तोड़ आरोप लगाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद गरीब परिवार से संबंधित बताते हुए कहा था कि कांग्रेस एक गरीब को प्रधानमंत्री बनते नहीं देख पा रही है।

उन्होंने अपने ऊपर किए जा रहे हमलों को गुजरात की आन-बान-शान पर हमला बताया था। उन्होंने राहुल गांधी को घेरते हुए कहा वह गुजरात के बेटे को गुजरात में आकर जजील नहीं कर सकते। मोदी ने चाय वाले ट्वीट पर भी कांग्रेस को खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि मैंने चाय बेची है, देश नहीं बेचा।

वहीं कांग्रेस ने देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा गुजरात के लिए कुछ भी नहीं करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दावे को पूरी तरह से गलत और गुमराह करने वाल करार देते हुए आरोप लगाया कि इससे उनकी ‘अस्वस्थ मानसिकता’ का पता चलता है। कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि गुजरात में कांग्रेस के बढ़ते जनसमर्थन को देखकर भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी बौखला गए हैं। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री अस्वस्थ मानसिकता के शिकार हैं। यह देश के लिए चिंता की बात है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper