शाहरुख़ की बेटी सुहाना खान को उनके सांवले रंग के लिए किया ट्रोल, सुहाना ने ट्रोलर्स को दिया करारा जवाब!

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान की बेटी सुहाना खान इन दिनों काफी सुर्खियों में हैं। हाल ही में सुहाना खान ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से कुछ तस्वीरें शेयर की हैं सुहाना खान को अक्सर उनके रंग की वजह से ट्रोल किया जाता है। इन तस्वीरों में सुहाना ने सोशल मीडिया के ट्रोल्स के पोस्ट शेयर किए हैं। जिसमें लोग उनके स्किन कलर को लेकर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं।

अब हाल ही में ऐसे लोगों को शाहरुख की लाडली सुहाना खान ने करारा जवाब दिया। सुहाना ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की है जिसके जरिए उन्होंने रंग को लेकर मजाक बनाने वाले लोगों को जमकर लताड़ लगाई है। सुहाना खान को सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स ने ‘काली’ कहा था। इसके बाद उन्होंने अपनी एक तस्वीर शेयर की है। इसके साथ ही यूजर्स के द्वारा उन पर किए गए कॉमेंट्स को भी शेयर किया।

सुहाना ने पोस्ट शेयर कर लिखा- ‘अभी बहुत कुछ चला रहा है और यह उन मुद्दों में से एक है जिन्हें हमें ठीक करने की जरूरत है। यह सिर्फ मेरे बारे में नहीं है, यह हर युवा लड़की/लड़के के बारे में है जो बिना किसी कारण के हीन भावना के साथ बड़ा होता है। जब मैं 12 साल की थी तब मुझे लोगों द्वारा बताया गया कि मैं अपनी स्किन के कारण बदसूरत हूं। ये टिप्पणी भारत के लोग करते हैं जबकि हम सभी भारतीय मुख्य रूप से ब्राउन कलर के ही होते हैं।’ सुहाना ने आगे लिखा-‘आप मेलेनिन से खुद को दूर करने की कितनी कोशिश करते हैं लेकिन कर नहीं सकते।

अपने ही लोगों से नफरत करने का मतलब है कि आप दर्द में हैं। मुझे दुख है कि अगर सोशल मीडिया इंडियन मैचमेकिंग या यहां तक कि आपकी खुद की फैमिली ने भी आपको आश्वस्त किया है कि अगर आप 5’7 और आपका कलर साफ नहीं है तो आप सुंदर नहीं हैं। मैं 5’3 की हूं और ब्राउन कलर की हूं। इसके बाद भी मैं खुश हूं और आपको भी होना चाहिए।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper