शिक्षा के साथ खेलों का भी विशेष महत्व: ब्रजेश पाठक

लखनऊ ब्यूरो। प्रदेश के विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि बच्चे देश के भावी कर्णधार हैं। बच्चे अगर मानसिक एवं शारीरिक रुप से स्वस्थ होंगे, तो भारत की नींव और उसका भविष्य सुदृढ़ होगा। शिक्षा के साथ ही वर्तमान में खेल का भी विशेष महत्व है। पाठक ने बुधवार को महानगर स्थित 35वीं बटालियन पीएसी ग्राउण्ड में एसकेडी अकादमी के 10वें वार्षिक खेलकूद समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में व्यक्त किए।
उन्होंने कहा कि खेल का क्षेत्र अत्यंत व्यापक है। वर्तमान सरकार ने खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए खिलाड़ियों को विशेष सुविधाएं सुलभ कराने की व्यवस्था भी की है। शहरी क्षेत्रों के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में खिलाड़ियों को बढ़ावा दिया जा रहा है।

एसकेडी अकादमी के 10 वां वार्षिक खेलकूद समारोह संपन्न

पाठक ने शैक्षिक क्षेत्र में विशेष योगदान देने वाले एसकेडी अकादमी की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस अकादमी द्वारा खेलों के प्रति छात्रों को अधिकाधिक प्रोत्साहित किया जाए, ताकि खिलाड़ी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर विद्यालय सहित प्रदेश व देश का नाम रोशन कर सकें।

छात्रों को सुसंस्कृत शिक्षा देकर उनके उत्कृष्ट भविष्य के निर्माण में विद्यालय की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि अकादमी को खेलों के प्रति जागरुक करने पर विशेष ध्यान दिए जाने की जरुरत है। उन्होंने विभिन्न कार्यक्रमों में प्रतिभाग करने वाले विजयी छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया।

विशिष्ट अतिथि संयुक्ता भाटिया ने समस्त कार्यक्रमों की सराहना करते हुए खिलाड़ियों की उज्ज्वल भविष्य की कामना की। विद्यालय के प्रबंधक एसकेडी सिंह ने सभी अभिभावकों एवं स्टाफ को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

कार्यक्रम में अतिरिक्त महानिदेशक आॅफ पुलिस, पीएसी हेडक्वाटर, आरके विश्वकर्मा, सेनानायक, 35वाहिनीपीएसी राकेश सिंह, डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल पीएसी हेक्वाटर मृगेन्द्र सिंह सहित बड़ी संख्या में अभिभावक गण एवं शिक्षकगण तथा भारी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper