शिमला, मनाली में बर्फबारी का दौर जारी, यातायात प्रभावित

शिमला: लोकप्रिय पर्यटन स्थलों शिमला और मनाली में दूसरे दिन मंगलवार को भी बर्फबारी हुई, जबकि हिमाचल प्रदेश के निचले इलाकों में बारिश के चलते तापमान में कुछ गिरावट दर्ज की गई है। प्रशासन ने कहा कि शिमला के ऊपरी इलाके के कस्बों में बर्फबारी के चलते सड़कों पर बर्फ की मोटी परत जमने से अन्य जगहों से संपर्क बाधित रहा।

शिमला के पास के पर्यटक स्थलों जैसे कुफरी, फागू, नारकंडा में भी बर्फबारी हुई, जिसकी वजह से ये हिल स्टेशन बेहद खूबसूरत नजर आ रहे हैं। इसी तरह मनाली में और राज्य की राजधानी से करीब 250 किलोमीटर दूर कल्पा में भी बर्फबारी हुई। हालांकि, शिमला और मनाली में बारिश के चलते काफी हद तक बर्फ पिघल चुकी है।

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि शिमला, कुल्लू, किन्नौर, लाहौल-स्पीति और चंबा जिलों में बुधवार तक बर्फबारी हो सकती है। उन्होंने कहा, “ऊपरी इलाकों में सोमवार से ही मध्यम से लेकर भारी बर्फबारी हो रही है।”

शिमला में न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। शिमला में 13.8 सेंटीमीटर जबकि मनाली में 13 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई। राज्य में लाहौल व स्पीति जिले का केलांग सबसे ठंडा रहा, जहां शून्य से 5.9 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज हुआ। यहां 25 सेंटीमीटर बर्फबारी देखने को मिली।

धर्मशाला में तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस, कल्पा में शून्य से 2.2 डिग्री सेल्सियस नीचे, मनाली में शून्य से एक डिग्री सेल्सियस नीचे, डलहौजी में शून्य से 1.7 डिग्री सेल्सियस नीचे और कुफरी में 2.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ।

मनाली के पास कोठी में सर्वाधिक 45 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper