शोले के गब्बर सिंह को मिली थी इस बात की सजा! वर्षों बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने खोला राज

नयी दिल्ली: यह जमाना सोशल मीडिया का जमाना है, यहां जब किसी को कोई बात हर घर तक पहुंचानी होती है तो वह सोशल मीडिया का सहाराा लेता है एक्टर, स्टार्स, पॉलिटीशियन ही नहीं बल्कि अब यूपी पुलिस भी सोशल मीडिया पर बहुत बहुत ज्यादा क्रिएटिव नजर आ रही है यूपी पुलिस (Uttar Pradesh Police) ने एक ऐसा वीडियो शेयर किया है जिसमें वर्षों पुरानी सुपरहिट फिल्मके विलेन गब्बर सिंह (Gabbar Singh) को लेकिन एक बड़ा राज सामने आया है इस वीडियो को देखकर आम लोग ही नहीं बल्कि अभिनेता अनुपम खेर (Anupam Kher) ने भी प्रशंसा की है

दरअसल उत्तर प्रदेश पुलिस ने कोविड-19 वायरस के संक्रमण के खतरे के प्रति जागरुक करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है यूपी पुलिस (Uttar Pradesh Police) ने अपने ट्विटर हैंडल से फिल्मका एक वीडियो शेयर किया है इस वीडियो में  गब्बर सिंह (Gabbar Singh) और ठाकुर (Thakur) नजर आ रहे हैं

गब्बर को मिली किस बात की सज़ा ? pic.twitter.com/3Dq5UkfIcK

— यूपी POLICE (@Uppolice) January 20, 2021

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि यह वही सीन है जिसमें वह गब्बर के थूकने के बाद ठाकुर यानी संजीव कुमार उनका पीछा करते हैं और अपने हाथ से उसके गले को दबाते हैं क्योंकि इस सीन की आरंभ में गब्बर थूकते हैं और फिर यानी ठाकुर उसका पीछा करते हैं तो अब गब्बर के इस सीन को उत्तर प्रदेश पुलिस ने थोड़ा एडिट करके अपने कार्य का बना लिया है

इस वीडियो के कैप्शन में लिखा है, ‘गब्बर को मिली किस बात की सजा?’ वीडियो में ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने खुले में थूकने को लेकर चेतावनी भी दे डाली है चेतावनी वाले इस संदेश में बोला गया है, ‘सार्वजनिक स्थानों पर थूकने से Covid-19 के प्रसार का खतरा बढ़ सकता है एक यह दंडनीय क्राइम है सार्वजनिक स्थानों पर न थूकें ‘

अब सह यह वीडियो सोशल मीडिया पर छाया हुआ है आम लोगों के साथ साथ बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर (Anupam Kher) ने भी इस वीडियो को पसंद किया है वैसे बात ठीक है कि लोगों को समझाने के लिए यूपी पुलिस (Uttar Pradesh Police) का ये उपाय योग्य े प्रशंसा है
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper