सभी दफ्तरों में कोविड हेल्प डेस्क अनिवार्य, जारी हुई ये गाइडलाइन

लखनऊ: कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। ऐसे में मुख्यमंत्री के निर्देश पर कमिश्नर- डीएम समेत अन्य अफसरों ने गुरुवार की देर रात स्थिति की समीक्षा की। इसके बाद निर्देश जारी किया गया कि सरकारी और निजी दफ्तरों में कोविड हेल्पडेस्क बनाना अनिवार्य होगा। यहां पर थर्मल स्कैनर, पल्स ऑक्सीमीटर, मास्क और सैनिटाइजर रखना होगा। जो निर्देशों को नहीं मानेगा उस पर महामारी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

इसके पूर्व सीएम योगी अदित्यनाथ ने कमिश्नर मुकेश मेश्राम, डीएम अभिषेक प्रकाश के साथ बैठक कर स्थिति की समीक्षा की थी। इसके बाद संक्रमण पर काबू पाने के लिए ठोस उपाय करने का निर्देश दिया। रात में स्मार्ट सिटी दफ्तर में कमिशनर मुकेश मेश्राम और डीएम अभिषेक प्रकाश ने अन्य अधिकारियों के साथ विचार विमर्श किया। इसके बाद नए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। कमिश्नर ने उपाध्यक्ष लखनऊ विकास प्राधिकरण को सभी रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन का होंगे नोडल अधिकारी बनाया है। वह कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन हो रहा है यह सुनिश्चित करेंगे।

यह हैं निर्देश-
– सर्विलांस टीमों को सक्रिय किया जाएगा। अन्य रोगों से ग्रस्त लोगों की जांच कराई जाएगी
– रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर दो घंटों के भीतर एम्बुलेंस भेजकर मरीज को भर्ती किया जाएगा
– मरीजों की भर्ती के लिए सीएमओ विशेष टीम और एम्बुलेंस की व्यवस्था करवाएंगे
– एडीएम सिविल सप्लाई, डीएसओ और डिप्टी आरएम करेंगे रेलवे स्टेशन की निगरानी
– जिन्होंने यात्रा की है उनको सख्ती से होम क्वारंटीन रहना होगा नहीं तो एफआई आर होगी
– निजी अस्पतालों में भी कोरोना की जांच करने वाली ट्रू नेट मशीनें लगाई जाएंगी
– सभी स्तरों के कोविड अस्पतालों में अनिवार्य रूप से सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper