सभी नगर निगमों में बनने चाहिए बलिदानियों नाम पर स्मृति पार्क: योगी

लखनऊ। कारगिल विजय दिवस के अवसर पर गुरुवार को राजधानी में कारगिल शहीद स्मृति वाटिका में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीदों को श्रद्धाजंलि दी। साथ ही मुख्यमंत्री ने शहीदों के परिजनों को सम्मानित भी किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कारगिल विजय दिवस भारत के पराक्रम,स्वाभिमान और सम्मान का दिवस है। कारगिल युद्ध के समय परिस्थिति भारत के प्रतिकूल थी, ऑक्सीजन की कमी और पाकिस्तान की सेना ऊपर थी। कारगिल के दौरान पाकिस्तान ने अपनी गीदड़ भभकियों से भारत के सामने चुनौती प्रस्तुत करने का काम किया। उसे अमेरिका से मदद मिली। अमेरिका ने हस्तक्षेप करने का भी प्रयास किया, लेकिन भारत ने स्पष्ट किया था कि देश की सुरक्षा और स्वाभिमान में कोई हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के ऐसे अमर बलिदानियों के नाम पर सभी 17 नगर निगमों में एक स्मृति पार्क बनाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि सेना के जिन अधिकारियों, जवानों ने कारगिल के युद्ध को विजय दिवस में बदलने का काम किया था। उनके नाम बड़े सम्मान के साथ भारत का हर नागरिक स्मरण करता है। आज का दिन हम सबके लिए संकल्प का दिवस है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस अभियान में हम कहां सहयोगी बन सकते हैं। उसके लिए आज के दिन को संकल्प दिवस के रूप में मनाकर देश की सुरक्षा का प्रयास करना चाहिए। आने वाली पीढ़ी को इससे हम एक उज्व्वल भविष्य दे सकते हैं।

उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत को समर्थ और सशक्त भारत का अभियान बनाना पड़ेगा। राष्ट्रीय सम्पत्ति की धरोहर के रूप में सुरक्षा करना ये हम सबका दायित्व है। प्रदेश के अंदर हमारा प्रयास होना चाहिए कि हर स्थान पर ऐसा आयोजन हो। हर शहीद के परिवार के लिए आर्थिक सहयोग की राशि को दोगुना करने का काम हम लोगों ने लागू किया है। उन्होंने कहा कि आज हम संकल्प तो लेते हैं लेकिन उसके अनुरूप आचरण नहीं कर पाते आज भारत मजबूत नेतृत्व के साथ दुनिया में आगे बढ़ रहा है कोई भी कार्य छोटा नहीं होता है।

जिन कार्यों से समाज को नई दिशा मिले वो अपने आप में बड़े होते हैं। आज भी हमें स्वच्छ भारत के मिशन के बारे में बताना पड़ रहा है। ये हमारी दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर शहीद कैप्टन मनोज पांडेय के भाई मनमोहन पांडेय सहित शहीद राइफल मैन नरनारायण जंग, शहीद मेजर रितेश शर्मा ,शहीद लेफ्टिनेंट नवनीत राय और शहीद राजा सिंह के परिजनों को सम्मानित किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री के साथ उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना, डॉ रीता बहुगुणा जोशी, राज्य मंत्री डॉ महेंद्र सिंह, मोहसिन रज़ा, कुमार अशोक पांडेय, विधायक सुरेश श्रीवास्तव और महापौर संयुक्ता भाटिया भी मौजूद रहीं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper