सभी प्रतिद्वंदियों को पीछे छोड़ लखनऊ की ऋतु सुहास ने जीता मिसेज इंडिया-2019 का खिताब

लखनऊः भारतीय महिलाओं के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि आज वह किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं, फिर बात चाहे मध्यम वर्ग से आई लड़कियों की ही क्यों ना हो। ऐसी ही मिसाल आईएएस अधिकारी सुहास एलवाई की पत्नी ऋतु ने कायम की है, जिसने अपने परिश्रम के बलबूते मिसेज इंडिया-2019 का खिताब हासिल किया है।

इस प्रतियोगिता का आयोजन मुंबई में 10 सितंबर से चल रहा था, जिसमें देश के 20 राज्यों से आई 60 महिलाओं ने हिस्सा लिया था। टैलेंट, कॉस्ट्यूम व प्रश्नोत्तरी राउंड में सभी प्रतिद्वंदियों को पीछे छोड़ते हुए ऋतु ने अपनी जगह बनाई। मिसेज इंडिया 2019 जीतने वाली ऋतु वर्तमान में एलडीए में ज्वांइट सेक्रेटरी के पद पर तैनात हैं।

बेहद संघर्षशील जीवन बिताने वाली ऋतु के पास कभी अखबार खरीदने तक के पैसे नहीं होते थे, लेकिन आज मेहनत से वह आराम की जिंदगी व्यतीत कर रही है। बता दें कि, इससे पहले पीसीएस अधिकारी ऋतु सुहास ने इस साल हुए लोकसभा चुनाव के दौरान बूथ दोस्त के नाम से एक एप बनाया था, जिसमें दिव्यागों को वोटिंग के दौरान होने वाली दिक्कतों से बचाने की व्यवस्था की गई थी।

ऋतु सुहास के पति आईएएस अधिकारी सुहास एलवाई को ईमानदार अधिकारी के तौर पर जाना जाता है। सुहास पैर से विकलांग हैं उसके बावजूद उन्होंने हौसले की मिसाल कायम की। 2016 में बीजिंग में हुए एशियन पैरा बैडमिंटन टूर्नामेंट में उन्होंने भारत का परचम लहराया था। वहीं 2017 में वाराणसी में हुए नेशनल टूर्नामेंट में उन्होंने फाइनल में जगह बनाई थी। इतना ही नहीं 2016 में तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव ने सुहास को यशभारती सम्मान से नवाजा था।

रानू मंडल के बाद अब इस उबर ड्राइवर की आवाज के दीवाने हुए लोग, सोशल मीडिया पर मचा रहा धमाल

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper