सरकार पर दबाव बनाने सोनीपत में किसानों की बैठक आज

चंडीगढ़: दिल्ली सहित कई अन्य प्रदेशों में चक्का जाम करने के बाद सोमवार को किसान संगठन आगे की रणनीति बनाने को लेकर बैठक करेंगे। हरियाणा के सोनीपत में होने वाली बैठक में किसान संगठन आंदोलन को तेज करने और सरकार पर दबाव बनाने के लिए रणनीति तैयार करेंगे। इसके अलावा देशभर में एक साथ आंदोलन करने को लेकर मंथन किया जाएगा।

किसानों की हुई मौत
दूसरी ओर बहादुरगढ़ के टीकरी बॉर्डर पर दो और ढांसा बॉर्डर पर एक किसान की रविवार को मौत हो गई है। वहीं, टीकरी बॉर्डर पर एक किसान ने आत्महत्या कर ली। टीकरी बॉर्डर के निकट जींद के किसान ने पार्क में पेड़ से लटककर आत्महत्या कर ली। बॉर्डर एरिया में ही पंजाब के 2 किसानों की हार्ट अटैक से मौत हो गई। इनमें से एक पंजाब के संगरूर और दूसरा मोगा जिले का रहने वाला था।

9 फरवरी को राकेश टिकैत की रैली, किसान लोगों को दे रहे न्योता
किसान आंदोलन में चक्का जाम ने एक नई जान फूंक दी है। पहले जहां हरियाणा के किसान दिन-रात शंभू बॉर्डर पर डटे रहते थे। अब वहीं पंजाब के किसान भी सहयोग देने के लिए बड़ी संख्या में बॉर्डर की ओर पहुंचने लगे हैं। रविवार को 300 किसान शंभू बॉर्डर पर पहुंचे हैं। वहीं, हरियाणा से प्रतिदिन 500 किसान पहुंच रहे हैं। चक्का जाम के बाद कुरूक्षेत्र में टोल प्लाजा पर फिर से किसान जुट रहे हैं। 9 फरवरी को गुमथलागढू की अनाज मंडी में होने वाली राकेश टिकैत की रैली के लिए गांव-गांव जाकर किसान लोगों को न्योता दे रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper