साबरमती एक्सप्रेस मंगलवार से निरस्त, यात्रियों की परेशानी बढ़ी

लखनऊ। रेलवे प्रशासन वाराणसी कैंट रेलवे स्टेशन पर तीन जुलाई से वाशबेल एप्रोन का निर्माण करने जा रहा है, इसलिए लखनऊ होकर चलने वाली साबरमती एक्सप्रेस मंगलवार से कई दिनों के लिए रद्द कर दी गई है। इससे यात्रियों की परेशानी बढ़ गई है।

सोमवार को मंडल वाणिज्य प्रबंधक ने बताया कि वाराणसी से अहमदाबाद के बीच चलने वाली 19168 और अहमदाबाद से वाराणसी के चलने वाली 19167 साबरमती एक्सप्रेस तीन जुलाई से कई दिनों तक के लिए निरस्त रहेगी। वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर आठ पर तीन जुलाई से वाशबेल एप्रोन ​का निर्माण किया जाएगा, इसलिए साबरमती एक्सप्रेस को निरस्त किया गया है। वहीं इस ट्रेन के निरस्त होने से अहमदाबाद जाने वाले यात्रियों की परेशानी बढ़ जाएगी।

वाणिज्य प्रबंधक के अनुसार, इस महीने अप एवं डाउन दोनों तरफ की साबरमती एक्सप्रेस की 03 जुलाई, 05, 06, 08, 10, 12, 13, 15, 17, 19, 20, 22, 24, 26 और 27 जुलाई को रद्द रहेगी। इसके अलावा लखनऊ होकर चलने वाली अधिकतर ट्रेनें अपने निर्धारित समय से देरी से चल रही हैं। वहीं दिल्ली से चलने वाली दिल्ली-फैजाबाद एक्सप्रेस और कैफियात एक्सप्रेस आज भी अपने गंतव्य पर देरी से पहुंची। जबकि पैसेंजर ट्रेनों का हाल बेहाल है।

यात्री विनोद तिवारी,अर्जुन उपाध्याय और ​अवधेश वर्मा ने बताया कि हम लोगों को मंगलवार को अहमदाबाद जाना था, लेकिन रेलवे ने अचानक ट्रेन को रद्द ​कर दिया है। हमारी दिक्कतें बहुत बढ़ गई हैं। अहमदाबाद के लिए ट्रेनें कम हैं, इसलिए साबरमती एक्सप्रेस जैसी महत्वपूर्ण ट्रेन को निरस्त नहीं करना चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper