साल में 26 घंटे पार्किग की तलाश में गंवा देते हैं लोग

लंदन: गाड़ी पार्क करने की समस्या पूरी दुनिया में सबसे विकराल समस्या बन चुकी है। शायद आपकों जानकार हैरानी होगी कि अपने वाहन से ऑफिस जाने वाले लोग 26 घंटे समय सही पार्किंग की तलाश में बिता देते हैं। एक शोध में विशेषज्ञों ने यह खुलासा किया है।

शोधकर्ताओं का दावा है कि एक तिहाई वाहन चालक पार्किंग की तलाश में चक्कर काटते रह जाते हैं। यह शोध एक ब्रिटेन की एक बीमा कंपनी ने किया है। इसमें विशेषज्ञों ने कहा कि ज्यादातर वाहन चालक एक साल में 26 घंटे और 21 मिनट का समय पार्किंग की जगह तलाशने में लगा देते हैं। तकरीबन 37 फीसदी चालक पार्किंग के अंतहीन चक्कर काटते हैं, मगर उन्हें जगह नहीं मिल पाती है।

इनमें से पांच फीसदी चालकों का कहना था कि उन्होंने पार्किंग न मिलने पर ऑफिस न जाकर घर जाना बेहतर समझा। पार्किंग की तलाश कर रहे तकरीबन 20 फीसदी वाहन चालक अपनी कार को नुकसान पहुंचा बैठते हैं। गाड़ी पार्क करते समय ठोकर लगने की संभावना महिलाओं के मुकाबले पुरुषों की अधिक होती है। तकरीबन 45 फीसदी को पार्किंग न मिलने पर शर्मिंदगी महसूस होती है।

कंपनी के सीईओ एंडी जेम्स ने कहा कि पार्किंग न मिलने पर वाहन चालक कई बार झुंझला जाते हैं। इसी झुंझलाहट में उनसे गाड़ी टकरा जाती है। कुछ चालक तो ऐसे भी होते हैं, जो अपनी गाड़ी पार्क करने के लिए किसी और से मदद मांगते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper