सावधान! आपने तोड़ा रेलवे का यह नियम तो सामने खड़े हैं ‘यमराज’

नई दिल्ली: दरअसल पश्चिम रेलवे ने रेलवे ट्रैक को पार कर अपनी जान को खतरे में डालने वाले यात्रियों की जान बचाने के लिए मुंबई के रेलवे स्टेशन पर यमराज को उतारा है। खुद यमराज आकर ऐसे लोगों को अपने कंधे पर उठाकर ले जा रहे हैं। दरअसल वेस्टर्न रेलवे द्वारा मुसााफिरों को जागरुक करने के लिए जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है।

इसके तहत पश्चिम रेलवे अपने साथ रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) को साथ लेकर यह कवायद कर रहा है। इसी कड़ी में मुंबई रेलवे स्टेशन पर कर्मचारी यमराज की वेशभूषा में नजर आ रहे हैं। जब भी कोई यात्री नियमों को तोड़कर रेलवे ट्रैक पार करता है तो यमराज की वेशभूषा वाला कर्मचारी उन्हें अपने कंधे पर उठा लाता है। उसके बाद उसे ऐसा ना करने के प्रति जागरुक किया जाता है। इस तरह के जागरुकता अभियान की वजह से यात्रियों में भी इसे लेकर कौतुहल पैदा हो गया है।

रेल मंत्रालय के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल ने तस्वीरें साझा कर लिखा, “अनाधिकृत रूप से पटरी पार ना करें, यह जानलेवा हो सकता है। अगर आप अनाधिकृत तरीक़े से पटरी को पार करते हैं तो सामने यमराज खड़े हैं। मुंबई में पश्चिम रेलवे द्वारा आरपीएफ के साथ मिलकर ‘यमराज’ के कैरेक्टर के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है।”

वहीं पश्चिम रेलवे के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो जारी किया गया जिसमें लिखा है, “ये यमराज जी जान बचाते हैं। वह ऐसे लोगों को पकड़ता है जो रेलवे पटरियों पर उतरकर अपनी जान को खतरे में डालते हैं, लेकिन उन्हें बचाने के लिए। यह यमराज लोगों को उन्हें सुरक्षित छोड़ने के लिए पकड़ता है। कृपया पटरियों को पार न करें, यह खतरनाक है।”

वेस्टर्न रेलवे का इस अभियान को शुरू करने के पीछे मकसद यात्रियों को रेलवे ट्रैक पार करने के दौरान होने वाले संभावित खतरे से भी बचाना है। इसके लिए यमराज बना कर्मचारी ना सिर्फ यात्रियों को ट्रैक पर जाने से रोकता भी है, बल्कि उन्हें ऐसा ना करने के लिए जागरुक भी करता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper