सीएम योगी ने गणेश चतुर्थी पर दी शुभकामनाएं, कहा- घर में ही करे पूजा

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गणेश चतुर्थी के अवसर पर शुभकामनाएं देते हुए कोरोना काल में पूजन घर पर ही करने की अपील की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया कि
‘मुदा करात्तमोदकं सदा विमुक्तिसाधकं।
कलाधरावतंसकं विलासिलोकरक्षकम्।
अनायकैकनायकं विनाशितेभदैत्यकं
नताशुभाशुनाशकं नमामि तं विनायकम्।।’

भक्तजनों को पावन ‘श्री गणेश चतुर्थी’ की शुभकामनाएं। भगवान विनायक के आशीष से हम सभी अभिसिंचित हों, ऐसी कामना है। कोरोना काल में पूजन घर पर ही करें।

उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने ट्वीट किया कि आप सभी को गणेश चतुर्थी की बहुत-बहुत बधाई। गणपति बाप्पा मोरया!

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया कि

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ ।
निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ॥

श्री गणेश चतुर्थी के पावन पर्व पर समस्त देश एवं प्रदेश वासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने ट्वीट किया कि
ऊं नमो विघ्नराजाय सर्वसौख्यप्रदायिने ।
दुष्टारिष्टविनाशाय पराय परमात्मने ॥

समस्त देशवासियों को गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं! भगवान श्री गणेश हम सभी पर अपना आशीर्वाद बनाये रखें।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट किया कि श्री गणेश चतुर्थी के पावन अवसर पर सभी प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। मैं विघ्नहर्ता भगवान गणेश से सभी प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि और खुशहाली की प्रार्थना करता हूं।

वहीं उत्तर प्रदेश के पर्यटन विभाग की ओर से कहा गया कि
वक्रतुंड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ:। निर्विघ्नं कुरुमेदेव सर्वकार्येषु सर्वदा।।

आइए, हम सब मिलकर गणपति से प्रार्थना करें कि जल्द भारत कोरोना महामारी से मुक्त हो और पर्यटन के मार्ग फिर खिल उठें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper