सीतापुर में 8 दिन से लापता युवक की खेत में मिली लाश, प्रेमिका ने पति के साथ मिलकर प्रेमी को उतारा था मौत के घाट

लखनंऊ: उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में रविवार को पुलिस बीते 8 दिनों से लापता युवक का शव गन्ने के खेत से बरामद किया है। पुलिस के अनुसार, युवक की उसकी शादीशुदा प्रेमिका ने अपने पति के साथ मिलकर गला दबाकर हत्या कर दी थी। इसके बाद शव को खेत में दफन कर दिया था। पुलिस ने आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर शव बरामद किया है।

यह घटना रेउसा थाना क्षेत्र की है। यहां के ग्राम बाजारपुरवा निवासी रामू 12 सितंबर से लापता चल रहा था। वह बाइक पर सवार होकर घर से निकला था, इसके बाद उसका कोई सुराग नहीं लगा। पत्नी आरती ने काफी खोजबीन की, लेकिन जब पता नहीं चला तो 16 सितंबर को थाने पर रामू की गुमशुदगी की सूचना दर्ज कराई थी। पुलिस ने जब मामले की जांच शुरू की तो गांव की ही एक महिला से उसके अवैध संबंधों का पता चला।

पुलिस की जांच में 12 सितंबर को आखिरी कॉल में इसी महिला के साथ रामू की बातचीत पाई गई। जिसके बाद पुलिस ने महिला से मामले में पूछताछ की। पुलिस के मुताबिक रामू से आखिरी बार फोन पर बातचीत करने वाली महिला नीलम से जब गहराई से पूछताछ की गई तो उसने पति अनिल के साथ मिलकर रामू की गला दबाकर हत्या करने का जुर्म कबूल किया।

पुलिस के मुताबिक मृतक और आरोपित महिला का पहले से प्रेम संबंध था और महिला पति से आंख मिचौली करके अपने प्रेमी (मृतक) से मिलने जाया करती थी। पत्नी की इस करतूत के बारे में जब पति को भनक लगी तो पति आग बबूला हो गया और पत्नी से फोन करके उसके मायके हिम्मतपुरवा गांव के बाहर प्रेमी को गन्ने के खेत में बुलवाया और दोनों ने मिलकर प्रेमी को रास्ते से हटा दिया। पुलिस के मुताबिक आरोपित पति-पत्नी ने पहले गला दबाकर उसकी हत्या की फिर उसे गन्ने के खेत में दफना दिया था। एडिश्नल एसपी के मुताबिक बरामद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और महिला के साथ ही उसके पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper